पश्चिम बंगाल रुपाश्री योजना – लड़कियों के लिए 1.5 लाख की विवाह सहायता

West Bengal Rupashree Scheme – पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा एक योजना शुरू की गई जिसका नाम है जिसका नाम है पश्चिम बंगाल रुपश्री योजना। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा राज्य में गरीब परिवार की लड़कियों को उनके विवाह के लिए 1.5 लाख रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत लगभग 6 लाख लड़कियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। इस योजना का लाभ केवल वही लड़कियों को दिया जाएगा जिनकी आयु 18 वर्ष पूरी हो चुकी है।

West Bengal Rupashree Scheme – पश्चिम बंगाल रुपाश्री योजना

पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा इस सरकारी योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में उन गरीब परिवारों की मदत करना है जो लोग अपनी लड़की शादी करने में असमर्थ है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा गरीब परिवार की लड़कियों के विवाह के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिसकी मदत से वह अपनी लड़की का विवाह कर सकेंगे।

Objectives of West Bengal Rupashree Scheme

पश्चिम बंगाल रुपाश्री योजना का उद्देश्य

  • इस योजना के अंतर्गत गरीब लड़कियों के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है।
  • इस योजना के माध्यम से बाल विवाह पर रोक लगाना है और लोगो को जागरूक करना है।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से शिक्षा और कौशल प्रदान कर सक्षम बनाना है ताकि वह आत्मनिर्भर बन सके।
  • इसके साथ ही राज्य में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा और महिलाओं का आर्थिक और सामाजिक स्तर बढ़ेगा।
  • लड़कियों के सही उम्र में विवाह होने से प्रारंभिक गर्भधारण, बच्चे और मातृ मृत्यु दर और स्वास्थ्य स्थितियों के जोखिम में कमी आएगी।
Conditional Cash Transfers Under Rupashree Scheme

पश्चिम बंगाल रुपाश्री योजना के तहत सशर्त नकद अंतरण

  • वार्षिक प्रोत्साहन – इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जाएगी। योजना के अनुसार  13 से 18 वर्ष की उम्र वाली लड़कियों को 1000 / – की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। इस प्रोत्साहन राशि का लाभ केवल उन लड़कियों को ही दिया जाएगा जो विभिन्न स्कूलों में पढ़ रही हैं। और अविवाहित है।
  • वन टाइम ग्रांट – पश्चिम बंगाल सरकार लड़कियों की शादी के समय 1.5 लाख की अनुदान राशि केवल एक बार के लिए ही दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *