राजस्थान पेपरलेस किसान ऋण वितरण योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र एवं पंजीकरण

राजस्थान राज्य सरकार ने किसानो के लिए एक नयी किसान ऋण वितरण योजना शरू की है जिसका नाम है Rajasthan Paperless Crop Loan Distribution Scheme – राजस्थान पेपरलेस किसान ऋण वितरण योजना। इस बार राज्य सरकार किसान ऋण वितरण को पूरी तरह से ऑनलाइन करने जा रही है। यह प्रक्रिया राजस्थान सहकारिता विभाग सहकारी फसल ऋण पोर्टल के माध्यम से लोन वितरण की शुरूआत की जाएगी। यह योजना किसानो के लिए 3 जून 2019 से शरू की जा चुकी है।

राजस्थान पेपरलेस किसान ऋण वितरण योजना का उद्देश्य – Objective of Rajasthan Paperless Crop Loan Distribution Scheme

जैसा की आप जानते है अब से पहले किसान ऋण वितरण योजना का लाभ लेने के लिए सहकारी समितियों और बैंकों में जाना पड़ता था। इस फसली ऋण वितरण योजना को ऑनलाइन करने का मुख्य कारण यह है की स्थानीय स्तर पर होने वाली गड़बड़ियां और सहकारी समितियो की मनमानी खत्म करना है। इसलिए उस प्रक्रिया को पूरी तरीके से ऑनलाइन किया जा रहा है। योजना के अनुसार, पहले चरण में जो किसान अपना लोन समय पर दे रहे थे वे अब ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। इस योजना के ऑनलाइन आवेदन के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र ग्राम सेवा सहकारी समिति पर उपलब्ध होंगे।

राजस्थान किसान ऋण वितरण योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र एवं पंजीकरण – Rajasthan Paperless Crop Loan Distribution Scheme Online Registration Application Form

  • इच्छुक किसान Paperless Crop Loan Distribution Scheme के लिए अब ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 3 जून 2019 से शरू हो चुकी है।
  • इस योजना के लिए किसान राजस्थान सहकारिता विभाग सहकारी फसल ऋण पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कर आवेदन कर सकते है। इसके अलावा किसान सहकारी समिति या ई-मित्र केन्द्र पर जाकर भी ऑनलाइन पंजीयन करवा सकते है।
  • यह पंजीकरण प्रक्रिया बायोमैट्रिक सत्यापन के माध्यम से होगी। पंजीकरण के बाद किसान को डिजीटल मेम्बर रजिस्टर (DMR) दिया जाएगा और लोन वितरण प्रक्रिया को इसी के माध्यम से पूरा किया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ सही तौर पर किसानो को देने के लिए सरकार पेपरलेस किसान ऋण वितरण योजना को आधार कार्ड से भी लिंक किया गया है जिससे किसी प्रकार से किसी प्रकार की गड़बड़ी न की जा सके।
  • बायोमैट्रिक सत्यापन के माध्यम किसान का रिकॉर्ड रखा जायेगा ताकि यह पता चल सके की वह कही डिफाल्टर तो नहीं है।
  • पंजीकरण पूरा होने बाद किसान के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक मैसेज प्राप्त होगा जिसमें एक यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर होगा जिसके माध्यम से किसान अपने ऋण सम्बन्धी जानकारी ले सकेगा।
You may also like :   राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना - केंद्रीय बजट 2018-19

सरकार किसानों की रोजमर्रा की जरूरतों और उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए नयी नयी योजनाए लेकर आती रहती है, जिससे उनकी हर मुश्किल आसान हो सके। सरकार द्वारा किसानो को उनकी सहायता के रूप में काम ब्याज पर खेती करने के लिए ऋण प्रदान करती है इसलिए सरकार यह योजना किसानो के लिए लेकर आयी है। इस योजना पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए राज्य में किसानों को साल 2019-20 में 16 हजार करोड़ का ऋण वितरित किया जाएगा। सभी लाभार्थी किसानों को 10 हजार करोड़ रुपये खरीफ सीजन में और 6 हजार करोड़ रुपये रबी सीजन में वितरित किए जाएंगे।

हम आपको सूचित करना चाहते है कि यह कोई अधिकारिक वेबसाइट नहीं है। हमारा हमेशा से यही प्रयत्न रहता है की हम आपको सरकार की विभिन्न प्रकार की योजनाओ से समबन्धित सही जानकारी प्रदान करे। आमतौर पर योजनाओ की जानकारी का स्रोत अखबार, न्यूज़ चैनल और सरकार द्वारा चलाई गई वेबसाइट होती है, जिन्हें अलग - अलग स्रोतों से एकत्रित किया जाता है। इसके अलावा हमारा किसी भी सरकारी संस्था या सरकार से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है। हमारा कार्य केवल सरकार की योजनाओ की सही जानकारी देना है हमारी वेबसाइट पर किसी भी व्यक्ति से किसी भी प्रकार का कोई डाटा नहीं लिया जाता हम आपसे अनुरोध करना चाहेंगे की आप हमारी वेबसाइट पर अपनी किसी भी प्रकार की पर्सनल जानकारी न डाले अगर आप ऐसा कुछ करते है तो इसके प्रति हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

About schemes-admin


मेरा नाम प्रदीप कुमार है में इस साइट में एडमिन के तौर पर काम करता हूँ मुझे हिंदी में लिखा अच्छा लगता है और में अपनी तरफ से कोसिस करता हुआ की जो पोस्ट में डालू उससे मरे यूजर को पूरी हेल्प मिले मुझे लिखना और साथ में चाय पीना अच्छा लगता है

DMCA.com Protection Status

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *