जल स्वालंबन अभियान राजस्थान | Rajasthan Mukhya Mantri Jal Swavlamban Abhiyan

 जल स्वालंबन अभियान राजस्थान

 

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान को जल संरक्षण के लिए राजस्थान राज्य सरकार ने शुरू किया है। इस अभियान के तहत राज्य सरकार जल संचयन और जल संरक्षण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण, नेतृत्व, नैतिक जिम्मेदारी, उत्कृष्टता, नवीनता, साझेदारी और पवित्रता के मूल्यों का उपयोग कर ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित गतिविधियों के प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करने के लिए है।

कार्यक्रम को काम करने लिए इस तरह से डिजाईन किया गया है की  गाँव का निचले तौर पर सामुदायिक विकास हो। इस कार्यक्रम में 3000 गांवों को प्रथम वर्ष में प्राथमिकता के आधार पर चुना गया है और अगले तीन साल में 6000 के आसपास गांव हर साल अभियान में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का मुख्य उद्देश्य 2020 तक राज्य के 21,000 गांवों को लाभ देना है।

राजस्थान राज्य में वर्षा बहुत कम मात्रा में होती है, यहां तक कि छोटे बादल हर साल सिर्फ 3-4 महीने में होते हैं। राजस्थान में मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान राज्य में पानी को बचाने के लिए बहुत उपयोगी है। सरकार ने 3 करोड का बजट अभियान के पहले चरण के लिए बनाया गया है।

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की विशेषताएं

  1. हर गांव पानी के लिए आत्मनिर्भर बनाना
  2. मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान एक चार साल का कार्यक्रम है और प्रत्येक चरण एक वर्ष का है।
  3. इस कार्यक्रम को राजस्थान में 33 जिलों के 295 ब्लॉक में शुरू किया गया है।
  4. इस अभियान में लोगों की भागीदारी को भी आमंत्रित किया गया है।
  5. लाइन विभागों, गैर सरकारी संगठन, कॉरपोरेट घरानों, धार्मिक न्यास, अनिवासी ग्रामीणों, सामाजिक समूहों आदि जैसे कई स्रोतों से वित्तीय संसाधन जुटाया जाएगा।
  6. इस कार्यक्रम में प्रौद्योगिकी का बड़े पैमाने पर उपयोग होगा।
  7. कम लागत जल संचयन संरचना का निर्माण

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का उद्देश्य

  1. राजस्थान को एक स्थायी पानी वाला राज्य बनाने के लिए
  2. सिंचित क्षेत्र बढ़ाने के लिए विभिन्न विभागों के संसाधनों के अभिसरण के माध्यम से प्रभावी जल संरक्षण सुनिश्चित करने के लिए
  3. सामुदायिक भागीदारी के माध्यम से पानी बजट के माध्यम से एक गांव कार्य योजना तैयार करने के लिए
  4. स्थायी उपायों के माध्यम से पीने के पानी में गांव को एक आत्मनिर्भर इकाई बनाने के लिए
  5. पानी के लिए गाँव को आत्म-निर्भर बनाना
  6. भू-जल स्तर में वृद्धि
  7. वाटरशेड के मुख्य धारा में सतह के प्रवाह की उपलब्धता
  8. पीने के पानी की उपलब्धता में वृद्धि
  9. सिंचित और उपजाऊ क्षेत्रों में वृद्धि
  10. 40% वर्षा सिंचित क्षेत्र सिंचाई के अंतर्गत लाया जाना
  11. फसल उत्पादन में वृद्धि
  12. फसल पद्धति में बदलाव

कैसे मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के लिए योगदान करने के लिए?

  1. कोई भी नागरिक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के लिए किसी भी राशि का दान कर सकते हैं http://mjsa.water.rajasthan.gov.in/
  2. आधिकारिक साइट पर जाएँ और सिर्फ निधि अभियान पर क्लिक करें
  3. कोई भी नागरिक रजिस्टर कर सकते हैं http://mjsa.water.rajasthan.gov.in/ और दान या गुमनाम रूप से दान करें

सन्दर्भ और विवरण

  1. मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की अधिक जानकारी के लिए

http://mjsa.water.rajasthan.gov.in/

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *