प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (हिंदी ) – Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY) Complete Detail

क्या है? प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 


प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना एक नई जन कल्याण योजना है जिसको प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बालिया (उत्तर प्रदेश में स्थित ) में 1 मई 2016 को शुरू किया था| प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत सरकार (गरीबी रेखा से नीचे) देश में गरीबी रेखा से नीचे जीवन जीने वाले लोगों को LPG कनेक्शन प्रदान करेगी| इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को पुराने खाना पकाने के साधनों को छोड़कर  LPG के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित करना है|

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का मुख्य उद्देश्य:


इस योजना के अंतर्गत सरकार का उद्देश्य लगभग 5 करोड़ LPG कनेक्शन देश के BPL (गरीबी रेखा से नीचे ) परिवारों की प्रत्येक महिलाओं को दिए जाएँगे| इस योजना का मुख्य उद्देश्य इस प्रकार हैं :-

  • महिलाओं को सशक्त बनाना और उनके स्वास्थ्य की रक्षा करना ।
  • जीवाश्म ईंधन पर आधारित खाना पकाने के साधनों से जुड़े गंभीर स्वास्थ्य के खतरों को कम करना।
  • अशुद्ध खाना पकाने के ईंधन के कारण भारत में होने वाली मौतों की संख्या को कम करना।
  • जीवाश्म ईंधन के जलने से घर के अंदर वायु प्रदूषण के कारण तेज साँस लेने की वजह से होने वाली बीमारियों से युवा बच्चों को बचाना।

कैसे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन करें:


यहाँ आप सभी को हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओँ में उज्जवला योजना का आवेदन करने के लिए फार्म दिया जा रह है| यदि कोई भी उज्जवला योजना का आवेदन करना चाहता है तो उसे ये फार्म भरना होगा|

अंग्रेजी में फार्म

हिंदी में फार्म

इस योजना का फार्म भरने से पहले ये जन लें की आप इस योजना के पात्र हैं या नहीं:


  • इस योजना के अनुसार केवल BPL परिवारों की महिलाऐं ही पात्र हैं और योजना के लिए आवेदन कर सकती हैं|
  • यह दो पन्नो का फार्म है जिसमे पात्र अपनी सामान्य जानकारी जैसे :-नाम,पता,जनधन खता संख्या,आधार कार्ड नंबर आदि| आवेदक ठीक ढंग से सभी जानकारी भरके जरुरी दस्तावेज के साथ आवेदन कर सकता है|

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची:


नीचे अनिवार्य दस्तावेजों की सूची है| जिनको भरे हुए आवेदन पत्र के साथ संलग्न किया जाना है।

  1. बीपीएल प्रमाण पत्र पंचायत प्रधान / नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा अधिकृत
  2. बीपीएल राशन कार्ड
  3. एक फोटो आईडी (आधार कार्ड या वोटर आईडी कार्ड)
  4. हाल का एक पासपोर्ट आकार का फोटो

फार्म भरने के बाद आप पास के LPG गैस एजंसी में दस्तावेजों के साथ फार्म जमा कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए पात्रता:


उम्मीदवारों को SECC- 2011 के आंकड़ों के आधार पर चुना जाएगा। लेकिन सरकार के बुनियादी मानदंडों के अनुसार इस फार्म को भर सकते हैं।

  1. आवेदक का नाम SECC 2011 के डेटा की सूची में होना चाहिए।
  2. आवेदक 18 वर्ष की आयु से ऊपर की एक महिला होनी चाहिए।
  3. महिला आवेदक बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) से संबंधित होनी चाहिए।
  4. महिला आवेदक का देश भर में किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में बचत बैंक खाता होना चाहिए।
  5. आवेदक के घर में पहले से ही किसी अन्य के नाम पर एक एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लिए कुल बजट / अनुदान विस्तृत जानकारी:


  • सरकार ने पहले ही वित्त वर्ष 2016-17 के लिए उज्ज्वला योजना के कार्यान्वयन के लिए 2000 रुपये का आवंटन किया है। सरकार चालू वित्त वर्ष के भीतर लगभग 1.5 करोड़ बीपीएल परिवारों को एलपीजी कनेक्शन वितरित करेगी।
  • इस योजना को पूरा करने के लिए सरकार 8000 करोड़ रूपये तीन साल में खर्च करेगी | इस योजना के लिए पैसे ‘गिव इट उप’ अभियान के माध्यम से LPG सब्सिडी के बचाए पैसों से योजना को शुरू किया गया है|

पात्रों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से किस प्रकार से वित्तीय सहायता:


  • योजना से 1600 रुपयें में प्रत्येक BPL परिवार को LPG कनेक्शन देना है |
  • सरकार चुल्हा और सिलेंडर लेने के लिए EMI की सुविधा भी दे रही है |

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का परिपालन:


  • योजना को पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने शुरू किया है ।
  • यह योजना को तीन साल, वित्तीय वर्ष 2016-17, 2017-18 और 2018-19 में लागू किया जाएगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना – – भारत में रसोई गैस वितरण की वर्तमान स्थिति


  • भारत में लगभग 24 करोड़ घर हैं जिनमें से 10 करोड़ परिवारों के पास अभी भी LPG कनेक्शन नहीं है | वे अभी भी खाना पकाने के लिए जलाऊ लकड़ी ,कोयला और गोबर का उपयोग करते हैं |

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना पर एक नजर:


   योजना के गुण               विवरण
1    योजना का नाम       प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना
2     प्रारंभ तिथि            01 मई 2016
3     मुख्य उद्देश्यबीपीएल परिवारों की महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन प्रदान
4     अन्य उद्देश्यअशुद्ध जीवाश्म इंधन के प्रयोग से होने वाले स्वास्थ्य के खतरों ,रोगों और वायु प्रदुषण को कम करना
5       लक्ष्यसाल 2018-19 में 5 करोड़ बीपीएल परिवारों को एलपीजी कनेक्शन का वितरण
6     समय सीमा3 वर्ष, वित्तीय वर्ष 2016-17, 2017-18 और 2018-19
7       कुल बजट            8000 करोड़ रुपये
8     वित्तीय सहायता  1600 / – रुपये प्रति एलपीजी कनेक्शन
9       पात्रताSECC-2011 के आंकड़ों में उपलब्ध बीपीएल उम्मीदवार
10    अन्य सुविधाएंस्टोव और सिलेंडर लेने के लिए ईएमआई की सुविधा

Pradhan Mantri Ujjwala Scheme Toll free No: 1800 266 6696

Leave a Reply