प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तेहत अब मिलेगा 5 किलो का सिलेंडर केवल 260 रुपये में

केंद्रीय सरकार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को लेकर एक बहुत बड़ा बदलाव करने जा रही है। जिसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के महिलाओ का जीवन और भी आसान हो जायेगा। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना केंद्रीय सरकार की अब तक की सबसे महत्वपूर्ण योजना रही है। इस बार उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 5 KG के गैस सिलेंडर उपलब्ध करवाए जायेंगे। जिसे गरीब परिवार के लोग आसानी से खरीद सकेंगे।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2019

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना सन 2016 में शरू की गई थी जिसका मुख्य उद्देश्य देश सभी गरीब परिवारों को गैस कनेक्शन देना था। योजना के अनुसार यह गैस कनेक्शन केवल महिलाओ को ही दिए जायेंगे जो गरीबी रेखा के निचे रहते है। इस योजना के अंतर्गत सरकार इन गरीब परिवारों को मात्रा 1600 रुपये में गैस कनेक्शन प्रदान करती है। जिसमे लाभार्थी को एक चूल्हा और एक गैस सिलेंडर मिलता है। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र में अब तक सात करोड़ गैस कनेक्शन बाटें जा चुके है। हलाकि सरकार का आठ करोड़ गैस कनेक्शन बाँटने का लक्ष्य था जिसे अब आने वाले 100 दिनों के भीतर पूरा किया जायेगा।

बीते पांच सालों में केंद्रीय सरकार का यही लक्ष्य रहा है की ग्रामीण इलाको के गरीब परिवारों को पारंपरिक तरीके के इंधन पर खाना पकाने से मुक्ति दिलाना है। पारंपरिक इंधन जैसे लकड़ी, कोयला और उपले आदि का उपयोग किया जाता है जिस पर खाना पकता है। सरकार सभी गरीब लोगो को प्रदुषण रहित गैस सिलेंडर उपलब्ध करवा रही है जिससे महिलाओ को खाना पकाने में सुविधा हो और प्रदुषण भी कम हो।

इस बार उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 5 किग्रा के गैस सिलेंडर उपलब्ध करवाए जायेंगे। जिसे गरीब परिवार के लोग आसानी से खरीद सकेंगे। पहले लोगो को सिलेंडर भरवाना बहुत ही महंगा पड़ता था जिसे लोग साल में लगभग तीन बार ही भरवा पाते थे ये फिर वो भी नहीं। रिफिलिंग का औसत लगभग सात का होना चाहिए जबकि ऐसा नहीं है। लेकिन इस बार सरकार 5 किग्रा के छोटे गैस सिलेंडर उपलब्ध करवाएगी जिससे लोग आसानी से भरवा सके और सिलेंडर रिफिलिंग को बढ़ावा मिल सके।

v

कितने का मिलेगा सिलेंडर

आमतौर पर 14.2 किग्रा सिलेंडर (12 रिफिल की घरेलू सीमा के भीतर) लगभग 712 रुपए का पड़ता है। जिसमे 215 रुपए की सब्सिडी दी जाती है। जिसे डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर योजना के तहत महिला ग्राहक के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाती है। जबकि 5 किग्रा के रिफिलिंग की लगत 260 आती है। जिसमे 80 रुपये की सब्सिडी मिलती है। आंकड़ों के अनुसार 14.2 किग्रा के सिलेंडर को भरवाने की कीमत अधिक होने की वजह लोग सिलेंडर काम भरवाते है। इस योजना से LPG गैस के उपयोग को बढ़ावा मिलेगा और लोगो के जीवन स्तर में सुधार आएगा।

यदि सिलेंडर भरवाने की कीमत काम हो जाएगी तो सीधे तोर पर उज्ज्वला योजना के तहत सिलेंडर भरवाने की संख्या बढ़ जाएगी और अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ ले सकेंगे। योजना के अनुसार अब तक 7 करोड़ 19 लाख गैस कनेक्शन बाटे जा चुके है और सरकार द्वारा तय किये गए लक्ष्य को पूरा करने के लिए इस बार 81 लाख गैस कनेक्शन और बाटे जाने है।

News Source – https://www.jagran.com/news/national-under-the-ujjwala-yojna-of-pm-modi-plan-will-now-get-5-kg-of-cylinders-19263393.html

One comment

  • Kamala

    Game is yojna ka Labh nahi milta he kyoki yaha kaha Jaya he ki aap St/sc nahi ho.me dadra & Nagar haveli me Tahari hi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *