[फार्म] प्रधानमंत्री मुद्रा योजना – अब 20 लाख रुपये तक का मिलेगा लोन बिना गारंटी के

Pradhan Mantri Mudra Yojana ( प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ) – यदि आप अपना रोजगार शुरू करना चाहते है और लोन लेना की जरुरत है तो यह योजना आपके लिए लाभदायक हो सकती है। इस योजना के अंतर्गत अब केंद्रीय सरकार 10 नहीं बल्कि 20 लाख रुपये का लोन दे रही है वो भी बिना किसी गारंटी के। इसका मतलब है कि इस योजना में पहले सरकार द्वारा छोटे कारोबारियों को रोजगार शुरू करने के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता था लेकिन अब सरकार इस ऋण की राशि को बढ़ा कर 20 लाख रुपये करने जा रही है जिसके लिए किसी प्रकार की गारंटी की जरुरत नहीं होगी।

क्या है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना – What is Pradhan Mantri Mudra Yojana

सबसे पहले आप यह जान ले की आखिर क्या है मुद्रा योजना। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना केंद्रीय सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसे 2015 शुरू किया गया था। इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य उन जरुरतमंद लोगो को ऋण प्रदान करना जो लोग अपना खुद का कारोबार शुरू करना चाहते है जिसमे रेहड़ी-पटरी वाले से लेकर छोटे कारोबारी को बिना किसी गांरंटी के लोन दिया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत लोगो को सरकार द्वारा 10 लाख रुपये का लोन दिया जाता था। परन्तु इस बार अर्थव्यवस्था की धीमी गति को देखते हुए लोन की सीमा को बढ़ा कर 20 लाख रुपये कर दिया जायेगा। इसके साथ ही इस ऋण की राशि को चुकाने की अवधि को भी 5 वर्ष तक किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लाभ – Benefits of Pradhan Mantri Mudra Yojana

  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना सबसे बड़ा लाभ यह है कि सरकार द्वारा बैंको के माध्यम से उन लोगो को कम ब्याज पर ऋण दिया जाता है जो लोग अपना खुद का कारोबार शुरू करना चाहते है।
  • सरकार द्वारा ऋण राशि की सीमा को 10 बढ़ा कर 20 लाख रुपये किया जा रहे है।
  • मुद्रा योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति जो अपना कारोबार शुरू करना चाहता है वह बिना किसी गारंटी के बैंको से ऋण प्राप्त कर सकता है।
  • सरकार द्वारा ऋण लौटाने की अवधि की 5 वर्ष तक किया जा सकता है। अब ऋण लौटाने के लिए पांच साल तक का समय मिलेगा।
  • कारोबार पर आने वाले खर्चो की पेमेंट के लिए लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड दिया जायेगा जिससे वह उसकी पेमेंट कर सके।
You may also like :   ई-वे बिल ऑनलाइन पंजीकरण - ई-वे बिल जेनरेशन www.ewaybillgst.gov.in

कितने प्रकार के लोन है –

मुद्रा योजना के तहत सरकार द्वारा तीन प्रकार की श्रेणियों के अनुसार लोगो को लोन दिया जाता है।

  • जिसमे सबसे पहला शिशु लोन जिसके तहत 50,000 रुपये तक का लोन दिए जाते हैं।
  • दूसरा किशोर लोन जिसके तहत 50,000 से 5 लाख रुपये तक का लोन दिए जाते हैं।
  • तीसरा तरुण लोन जिसके तहत 5 लाख से 10 लाख रुपये तक का लोन दिए जाते हैं।
  • लेकिन अब सरकार द्वारा ऋण की राशि को 10 लाख रुपये से बढ़ा कर 20 लाख रुपये किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए कैसे आवेदन करे – How to Apply for Pradhan Mantri Mudra Yojana

इस योजना के आवेदन के लिए आवेदक को iइसकी की आधिकारिक वेबसाइट से इसका प्रधानमंत्री मुद्रा योजना आवेदन पत्र डाउनलोड करना होगा जिसे पूर्ण रूप से भर कर इस बैंको में जमा करवा सकते है – वाणिज्यिक (कमर्शियल) बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, छोटे फाइनेंस बैंकों, सहकारी बैंकों, माइक्रोफाइनेंस (सूक्ष्म-वित्त ) संस्थानों और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों से लोन प्राप्त कर सकते है।

हम आपको सूचित करना चाहते है कि यह कोई अधिकारिक वेबसाइट नहीं है। हमारा हमेशा से यही प्रयत्न रहता है की हम आपको सरकार की विभिन्न प्रकार की योजनाओ से समबन्धित सही जानकारी प्रदान करे। आमतौर पर योजनाओ की जानकारी का स्रोत अखबार, न्यूज़ चैनल और सरकार द्वारा चलाई गई वेबसाइट होती है, जिन्हें अलग - अलग स्रोतों से एकत्रित किया जाता है। इसके अलावा हमारा किसी भी सरकारी संस्था या सरकार से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है। हमारा कार्य केवल सरकार की योजनाओ की सही जानकारी देना है हमारी वेबसाइट पर किसी भी व्यक्ति से किसी भी प्रकार का कोई डाटा नहीं लिया जाता हम आपसे अनुरोध करना चाहेंगे की आप हमारी वेबसाइट पर अपनी किसी भी प्रकार की पर्सनल जानकारी न डाले अगर आप ऐसा कुछ करते है तो इसके प्रति हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

About schemes-admin


मेरा नाम प्रदीप कुमार है में इस साइट में एडमिन के तौर पर काम करता हूँ मुझे हिंदी में लिखा अच्छा लगता है और में अपनी तरफ से कोसिस करता हुआ की जो पोस्ट में डालू उससे मरे यूजर को पूरी हेल्प मिले मुझे लिखना और साथ में चाय पीना अच्छा लगता है

DMCA.com Protection Status

One comment

  • Sanjay

    सर्व योजनांचा गरीब जनतेसाठी यांच्या उपयोग होत नाही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *