राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन – www.apprenticeship.gov.in

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम – भारत सरकार ने राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम (एनएपीएस) नामक एक नई योजना शुरू की। राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम की घोषणा 5 जुलाई, 2016 को की गई थी। यह योजना औद्योगिक प्रशिक्षु को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के अनुसार, युवाओं को उनके क्षेत्र के अनुसार औद्योगिक प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके अलावा, व्यय का 25% सरकार द्वारा उठाया जाएगा और नियोक्ता व्यय का शेष 75% हिस्सा लेगा।

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम क्या है?

सरकार का उद्देश्य इस तरह के युवाओं को प्रशिक्षु कार्यक्रम के माध्यम से उद्योग में प्रशिक्षित करना है, जिसके लिए सरकार ने 10000 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। बेहतर प्रशिक्षण के बाद, युवा लोग नौकरी के लिए तैयार होंगे, ताकि उद्योग में श्रम की कमी न हो और युवा भी बेहतर जीवन जी सकें।

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम की विशेषताएं

  • इस योजना में ऐसे कई प्रशिक्षण किए गए हैं, जिससे हम कौशल विकास का प्रशिक्षण ले सकते हैं।
  • इस योजना के अनुसार, 50 लाख लोग प्रशिक्षण ले सकते हैं ताकि वे भविष्य में अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकें।
  • इस योजना के अनुसार, हमारी सरकार 25% प्रशिक्षण संगठनों को उनकी ओर से प्रशिक्षण केंद्रों की लागत का 50% प्रदान करेगी

स्कीम के लाभ

  • इस योजना के तहत, 2020 तक, 50 लाख लोगों को कौशल विकास से भरे लोगों की तरह होना चाहिए, तो हम उन्हें जर्मनी से आगे बढ़ाएगा।
  • इसके अलावा, इससे हमारे देश की कंपनियों को भी फायदा होगा।
  • हालांकि, यह योजना देश के संस्थानों और कंपनियों में कॉम्पैक्शन की भावना को बढ़ाएगी, जो देश का नेतृत्व करेगी।
  • इसके अलावा, यह देश में बेरोजगारी को कम करेगा।
  • इसके अलावा, यह योजना युवा लोगों को प्रशिक्षित और नौकरी के अवसर प्रदान करेगी।

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम में सरकारी योगदान

भारत सरकार ने इस योजना के लिए 10 करोड़ दिए हैं, जिनमें से 50% प्रशिक्षण केंद्रों को और 25% कंपनी को दिए जाएंगे। हालांकि, भारत सरकार ने देश के लाभार्थियों को इन पैसे केंद्रों को नहीं दिया है, बल्कि उनके लाभ के लिए।

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम के उद्देश्य

  • नियोक्ताओं के साथ अधिकतम सीमा तक स्टिपेंड साझा करना। 1500 रूपए प्रति माह प्रति प्रशिक्षु
  • इसके अलावा, मूल प्रशिक्षण प्रदाताओं के साथ मूल प्रशिक्षण लागत को अधिकतम सीमा तक साझा करना। प्रति प्रशिक्षु 7500 रूपए 500 घंटे / 3 महीने के लिए।

नियोक्ता के लिए योग्यता मानदंड

  • टीआईएन / टीएएन के माध्यम से नियोक्ता सत्यापन
  • ईपीएफओ / ईएसआईसी / लाइन / सरकार द्वारा तय कोई अन्य पहचानकर्ता।
  • आधार से जुड़े बैंक खाते

बेसिक ट्रेनिंग प्रदाता (बीटीपी) के लिए योग्यता मानदंड

  • सरकारी और निजी आईटीआई में अतिरिक्त सीटें हैं
  • इन-हाउस बुनियादी प्रशिक्षण सुविधाओं के साथ प्रतिष्ठान
  • बीटीपी उद्योग समूहों द्वारा स्थापित / समर्थित है
  • आरडीएटी द्वारा बुनियादी प्रशिक्षण सुविधाओं का शारीरिक सत्यापन
  • इसके अलावा, बीटीपी के पास आधार से जुड़े बैंक खाते होना चाहिए

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम के लिए अन्य महत्वपूर्ण चीजें

  • इसके अलावा, पोर्टल, apprenticeship.gov.in के माध्यम से प्रशिक्षुओं को पंजीकृत और संलग्न करने के लिए प्रतिष्ठानों, अपरेंटिस और बीटीपी के लिए अनिवार्य है।
  • साथ ही, पोर्टल के माध्यम से अनुबंध पंजीकरण नामित और वैकल्पिक व्यापारों के लिए जरूरी है

ऑनलाइन अपरेंटिसशिप पंजीकरण प्रक्रिया

सभी इच्छुक और योग्य आवेदक इस कार्यक्रम के लिए ऑनलाइन मोड के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए, बस नीचे दिए गए सरल चरणों का पालन करें –

  • सबसे पहले, आधिकारिक अपरेंटिस पोर्टल i.e. www.apprenticeship.gov.in / http://mhrdnats.gov.in पर जाएं
  • फिर अपरेंटिस कॉलम के तहत अपरेंटिस पंजीकरण विकल्प पर क्लिक करें
  • उसके बाद, अगले पृष्ठ पर पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा। इस पंजीकरण फॉर्म को ध्यान से भरें।
  • फिर अपना व्यक्तिगत विवरण, संपर्क विवरण, योग्यता विवरण, तकनीकी योग्यता विवरण, व्यापार प्रेफर इत्यादि दर्ज करें।
  • इसके बाद, सभी आवश्यक दस्तावेज, फोटोग्राफ हस्ताक्षर आदि सावधानी से अपलोड करें।
  • उसके बाद, सबमिट बटन दबाएं।

नोट – संस्थान पंजीकरण के लिए, मुखपृष्ठ पर “स्थापना पंजीकरण” अनुभाग पर जाएं

संपर्क विवरण

राष्ट्रीय अपरेंटिसशिप प्रोमोशन स्कीम के बारे में किसी भी अन्य जानकारी के लिए, हमारे फेसबुक पेज पर पोस्ट करें या आप भी कर सकते हैं

मेल – skillindia.apprenticeship@gmail.com

मेरा नाम प्रदीप कुमार है में इस वेबसाइट में एडमिन के तौर पर काम करता हूँ और मुझे हिंदी में लिखना अच्छा लगता है और में अपनी तरफ से पूरी कोशिश करता हूँ की जो पोस्ट में डालू उससे मेरे यूजर को पूरी हेल्प मिले मुझे लिखना और साथ में चाय पीना अच्छा लगता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *