जवाहर रोजगार योजना 2019 – Jawahar Rozgar Yojana

Jawahar Rozgar Yojana Online Registration Application Form Last Date जवाहर रोजगार योजना 2019 ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म डाउनलोड Jawahar Rozgar Scheme – 1 अप्रैल 1989 को, राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार कार्यक्रम और ग्रामीण भूमिहीन रोजगार गारंटी कार्यक्रम के स्थान पर शुरू किया गया था हम आपको बताना चाहते है की इस सरकारी योजना का नाम जवाहर रोजगार योजना है इतना ही यह रोजगार कार्यक्रम भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय रोजगार कार्यक्रम है इस योजना के अंतर्गत, सभी पात्र उम्मीदवारों को 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराया जाता है इस योजना को इसलिए शुरू किया गया था ताकि प्रत्येक गाँव को पंचायती राज संस्थाओं के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराया जा सके जिसके लिए सभी गांव को विकास प्राधिकरण से सहयोगी और समर्थन भी मिला है

Jawahar Rozgar Yojana

इसके अलावा, हम आपको बताना चाहते है की सम्पूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना 1 सितंबर 2001 को रोजगार आश्वासन योजना (ईएएस) और जवाहर ग्राम समृद्धि योजना (जेजीएसवाई) के प्रावधानों को मिलाकर शुरू की गई थी कार्यक्रम प्रकृति में स्व-लक्ष्यीकरण है और इसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को रोजगार और भोजन उपलब्ध कराना है।

इस सरकारी योजना के अंतर्गत, पंचायत राज संस्थाओं को योजना के लाभार्थी के रूप में हर एक ग्रामीण क्षेत्र को शामिल करने की जिम्मेदारी दी गई थी जिसके लिए जिला ग्रामीण विकास प्राधिकरण ने इन ग्रामीण क्षेत्रों का आर्थिक रूप से समर्थन किया इस जवाहर रोजगार योजना के अंतर्गत लगने वाला धन मुख्य रूप से केंद्र सरकार (80%) और आंशिक रूप से राज्य सरकार (20%) द्वारा वहन किया गया था तभी से भारत की केंद्र सरकार द्वारा वार्षिक बजटों में इसके लिए बढ़ी हुई धनराशि उपलब्ध करा रही है

You may also like :   ओडिशा उर्वरक सब्सिडी योजना - प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण योजना

ग्रामीण फ्री शौचालय निर्माण लिस्ट या सूची में नाम देखे

धारा – जवाहर रोजगार योजना Jawahar Rozgar Yojana

प्रथम धारा –  हम आपको बताना चाहते है की इसे हर साल 75% बजट आवंटन प्राप्त हुआ और इस धारा का मुख्य उद्देश्य JRY, मिलियन वेल्स और इंदिरा आवास योजना की दिशा में काम करना था जिससे मिलियन वेल्स योजना को 30% और इंदिरा आवास योजना को 10% धनराशि का आवंटन मिला

दूसरी धारा –  इस धारा के अंतर्गत, हर साल 20% बजट आवंटन प्राप्त हुआ और इसे काफी तीव्र धारा माना जाता है इस धारा ने 120 अत्यंत पिछड़े जिलों को लाभ प्रदान किया

तीसरी धारा –  इसने हर साल शेष 5% बजट आवंटन प्राप्त किया और विशिष्ट नवीन योजनाओं पर ध्यान केंद्रित किया जैसे श्रम प्रवास पर नियंत्रण, सूखे के सबूत के साथ वाटरशेड का निर्माण आदि

इस पोस्ट से जुड़ी अन्य किस भी प्रकार की जानकारी के लिए आप हमसे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *