गृह मंत्रालय ने नागरिक शिकायतों के लिए शुरू की ‘ट्विटर सेवा’

 केंद्र ने नागरिकों तक पहुँचने के लिए शुरू की ‘ट्विटर सेवा’

  • पहल विदेश मंत्रालय की सफल ‘ट्विटर सेवा’ की तर्ज पर होगी।
  • मंत्रालय ने अपने विभिन्न विभागों द्वारा प्रदान की गई सार्वजनिक सेवाओं से संबंधित कुछ कीवर्ड की पहचान करेगा।
  • हर बार एक नागरिक कीवर्ड से संबंधित एक शिकायत ट्वीट्स, कर सकता है। यह गृह मंत्रालय के एक केंद्रीय सर्वर पर प्रतिबिंबित करेगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय जल्द ही अपनी ‘ट्विटर सेवा’ मंच का शुभारंभ करेगा। नागरिकों की शिकायतों को विभिन्न सामाजिक मीडिया के माध्यम से प्रसारित किया जाता है। मंत्रालय संबन्धित विभागों से और डिविजनों के माध्यम से उनको बताता है और उन पर करवाई करता है।

ट्विटर सेवा को भारतीय और विदेश में रहने वाले भारतीयों की पासपोर्ट/वीजा और विदेशी निति के मुद्दों से जुडी शिकायतों का समाधान करने के लिए विदेश मंत्रालय शुरू कर रहा है ।

गुरुवार को केन्द्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने ट्विटर सेवा’ सॉफ्टवेयर के साथ मंत्रालय के लिए तंत्र शिकायत निवारण बनाने के प्रस्ताव पर चर्चा करने के लिए राहील खुर्शीद से मुलाकात की जो की दक्षिण एशिया और दक्षिण पूर्व एशिया के ट्विटर सेवा प्रमुख हैं ।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, मंत्रालय अपने विभिन्न विभागों के मुद्दों के साथ-साथ मंत्रालय सार्वजनिक सेवाओं से संबंधित कुछ कीवर्ड की पहचान करेगा। हर बार एक नागरिक एक शिकायत या कीवर्ड से संबंधित शिकायत ट्वीट्स करेगा, जो गृह मंत्रालय के एक केंद्रीय सर्वर पर प्रतिबिंबित करेगा। जहां इन शिकायतों पर कार्रवाई की जाएगी और संबंधित विभाग को उनके निवारण के लिए प्रक्रिया शुरू करने और उसके बाद ट्विटर पर शिकायतकर्ता को सूचित किया जाएगा।

एक अधिकारी ने कहा कीवर्ड को सावधानी से चुना जाएगा और शुरू में एक न्यूनतम आरक्षण सुनिश्चित करना है कि गृह मंत्रालय अपनी ‘ट्विटर सेवा’ के तहत मुद्दों से संबंधित शिकायत और व्यर्थ की शिकायत पर बिना सोचे समझे सीधे अपने डोमेन से कोई करवाई न करे । गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा की संबंधित अधिकारियों को लोगों की समस्याओं और कठिनाइयों को हल करने के लिए एक वास्तविक समय के आधार पर आवंटित किया जाएगा।

गृह मंत्रालय वर्तमान में लगभग 10 ट्विटर संभाल रहा है जिनमें से दो में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथसिंह और राज्य के केन्द्रीय मंत्री किरण रिजिजू और हंसराज गंगाराम अहीर शामिल हैं ।

Leave a Reply