हरियाणा ई- गवर्नेस पोर्टल – ऑनलाइन पंजीकरण | हरियाणा मजदूरों के लिए विभिन्न योजनाए और सेवाएं ऑनलाइन

Haryana E-Governance Portal Online

Haryana E-Governance Portal Online Registration Haryana E-Governance Portal Schemes List Online E-Governance Haryana हरियाणा सरकार द्वारा अपने राज्य के मजदूरों के हितो को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन पोर्टल को शुरू किया गया है। जिसका नाम है “हरियाणा ई-गवर्नेस पोर्टल”। अब राज्य के प्रत्येक मजदूर को मिलेगा हरियाणा सरकार द्वारा योजनाओ का लाभ। मजदूरों के लिए विभिन्न योजनाए और सेवाएं उपलब्ध।

हरियाणा ई-गवर्नेस पोर्टल – Haryana E-Governance Portal

यह पोर्टल राज्य के मजदूरों के लिए शुरू किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से आप राज्य के श्रमिक मजदूरों के लिए शुरू विभिन्न योजनाओ के बारे में जानकारी ले सकते है साथ ही ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते है। आज आप हमारे इस लेख के माध्यम से पढ़ेंगे की कैसे आप इस पोर्टल पर पंजीकरण करके अनेक सुविधाओं का लाभ उठा सकते है। 

इस पोर्टल को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्यके मजदूरों को बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराना है। साथ ही उनकी आर्थिक वृद्धि को बढ़ानाहै। इस पोर्टल के जरिये कारखानों में काम करने वाले मजदूरों, दुकानोंमें काम करने वाले मजदूर, BOCW प्रतिष्ठान, सरकारीकार्यालयो में काम करने वाले, हरियाणा ठेकेदारों के साथ काम करनेवाले आदि मजदूरों को इस पोर्टल के माध्यम से विभिन्न योजनाओ का लाभ मिलेगा। 

हरियाणा ई – गवर्नेस पोर्टल पर मिलने वाली योजनाओ के लाभ- Benefits of Haryana E-Governance Portal Schemes

इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के मजदूरनिम्नलिखित योजनाओ के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

BOCW कल्याण योजनाएँ-

1. कन्यादान योजना (विवाह से तीन दिन पूर्व )

2. बच्चों की शादी पर वित्तीय सहायता (सुपुत्र)

3. बच्चों की शादी पर वित्तीय सहायता (सुपुत्री)

4. पेंशन की योजना

5. बच्चों की शादी पर वित्तीय सहायता(सुपुत्री)(शादी के तीन दिन पूर्व )

6. कन्यादान योजना

7. विधवा पैंशन

8. मकान की खरीद/निर्माण हेतु ऋण

9. मुख्यमंत्री सामजिक सुरक्षा योजना

10. मुख्यमंत्री महिला श्रमिक सम्मान योजना

11. अक्षम बच्चों को वित्तीय सहायता

12. औजार (टूल किट) खरीदने हेतु उपदान

13. मातृृत्व लाभ

14. पित्तृव लाभ

15. साईकिल योजना

16.दाह संस्कार हेतु आर्थिक सहायता

17. मुफ्त भ्रमण सुविधा

18. परिवारिक पेंशन

19. अंपगता सहायता

 20. अंपगता पैंशन

21. चिकित्सा सहायता

22. मृत्यु सहायता

23. पैतृक घर जाने पर किराया

इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के अंश श्रमिक योजनाओ के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

हरियाणा कल्याण बोर्ड-

1. अंशदाता श्रमिकों के लडके व लडकियों के लिएपहली कक्षा से बारवीं कक्षा तक पढ़ाई जारी रखने पर स्कूल की वर्दी, किताबेंव कापियां आदि खरीदने हेतू वित्तीय सहायता

You may also like :   भामाशाह रोजगार सृजन योजना राजस्थान ऑनलाइन आवेदन कैसे करे? पूरी जानकारी

2. मुख्यमंत्री कर्मचारी सामाजिक सुरक्षा योजना।

3. कार्यरत महिला की शादी के उत्सव पर कन्यादानके रूप में आर्थिक सहायता योजना

4. अंशदाता महिला श्रमिकों तथा पुरूष श्रमिकोंकी पत्नियों को प्रसूति पर वित्तीय सहायता ।

5. अंशदाता श्रमिकों को चश्मों के लिए वित्तीयसहायता

6. अंशदाता श्रमिकों के बच्चों के लिएछात्रवृत्ति योजना।

7. अंशदाता श्रमिक की कार्य स्थल से बाहर किसीभी कारण से मृत्यु पर दाह संस्कार व अन्य क्रियाक्रम हेतु वित्तीय सहायता सहायताप्रदान कराने बारे

8. अंशदाता श्रमिकों के बच्चों की खेलों के प्रतिप्रतिभा को विकसित करने बारे वित्तीय सहायता।

9. अंशदाता मृतक कर्मचारी की विधवाओं /आश्रितों को वित्तीय सहायता।

10. अंशदाता श्रमिकों के बच्चों की सांस्कृतिकक्षेत्र के प्रति प्रतिभा को विकसित करने बारे वित्तीय सहायता।

11. अंशदाता श्रमिकों के दिब्यांग (अन्धे,मंदबुद्धि,मूकतथा बाधिर) बच्चों को वित्तीय सहायता ।

12. अंशदाता श्रमिकों की लडकियों तथा संबंधितसंस्था में स्वयं

13. अंशदाता श्रमिकों द्वारा नई साईकिल खरीदनेपर वित्तीय सहायता

14. अंशदाता श्रमिकों को LTC(LeaveTravel Concession) की सुविधा उपलब्ध करवाने बारे सहायता।

15. अंशदाता श्रमिकों की सेवा के दौरानदुर्घटना या अन्य कारण से दिव्यांग होने पर वित्तीय सहायता।

16. अंशदाता श्रमिकों कि किसी भी दुर्घटना मेंअपंग हुए श्रमिकों व उनके आश्रितों को कृत्रिम अंगों (Artificial Limbs) हेतूवित्तीय सहायता।

17. अंशदाता श्रमिकों तथा उनके आश्रितों कोडैन्टल केयर/जबडा लगवाने हेतू वित्तीय सहायता।

18. दिव्यांग श्रमिकों तथा उनके आश्रितों कोतिपहिया साईकल हेतू वित्तीय सहायता ।

19. अंशदाता बधिर श्रमिकों व उनके बधिरआश्रितों को श्रवण मशीन हेतू वित्तीय सहायता।

20. अंशदाता महिला श्रमिकों को नई सिलाई मशीनखरीदने हेतू वित्तीय सहायता।

हरियाणा ई – गवर्नेस पोर्टल पर मिलने वाली सेवाओं के लाभ- Benefits of Haryana E-Governance Portal Online Services

हरियाणा सरकार द्वारा शुरू इस “ई –गवर्नेंस पोर्टल” के माध्यम से राज्य के श्रमिक मजदूरों को योजनाओ का लाभ तोमिल ही रहा हैं। साथ ही इस पोर्टल पर मजदूरों के लिए विभिन्न सेवाएं भी शुरू की गईहै। अब राज्य मजदूर  निम्नलिखित सेवाओं कालाभ भी इस पोर्टल के माध्यम से उठा सकते है। 

1. कारखानों अधिनियम 1948 के तहत पंजीकरण/ लाइसेंसिंग / नवीनीकरण

2.कानूनों, नियमों, आदेशों,प्रकाशनों,अधिसूचनाओंआदि जैसे दस्तावेजों की जानकारी और प्रबंधन का प्रसार

You may also like :   प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तेहत अब मिलेगा 5 किलो का सिलेंडर केवल 260 रुपये में

3. अनुबंध श्रम (विनियमन और उन्मूलन) अधिनियम,1970 केतहत पंजीकरण और लाइसेंसिंग।

4. बीपीओ / आईटी क्षेत्र में महिलाओं को रात मेंकाम करने की अनुमति देने के लिए दुकानें और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान अधिनियम 1958 केतहत पंजीकरण / नवीनीकरण।

5. हरियाणा भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याणबोर्ड- आधार से जुड़े बैंक खाते में DBT के माध्यम से लाभार्थियों के लाभ औरसंवितरण के रूप में श्रमिकों का पंजीकरण

6. फैक्ट्रीज एक्ट, 1948 के तहतफैक्ट्री बिल्डिंग प्लांस की मंजूरी और उसके बाद नियम बनाए गए।

7. स्थायी आदेश भरना और उनका प्रमाणीकरण

8. मोटर ट्रांसपोर्ट वर्कर्स एक्ट, 1961 केतहत पंजीकरण और लाइसेंस।

9. अंतरराज्यीय प्रवासी कामगार (रोजगार और सेवा कीशर्तों का विनियमन) अधिनियम, 1979 के तहत पंजीकरण।

10. हरियाणा श्रम कल्याण बोर्ड – आधार लिंक बैंकखाते में DBT के माध्यम से लाभार्थियों के लाभ और संवितरण केरूप में श्रमिकों का पंजीकरण

11. श्रमिक शिकायत निवारण तंत्र

12. विभिन्न श्रम कानूनों और संकलन के तहत प्रबंधनद्वारा सिंगी एकीकृत वार्षिक रिटर्न दाखिल करना।

13. औद्योगिक सुरक्षा मानदंडों और अन्य श्रमकानूनों का निरीक्षण और अनुपालन रिपोर्ट।

14. भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार (आरई और सीएस)अधिनियम, 1996 और उपकर अधिनियम के तहत उपकर / उपकर मूल्यांकनकी स्थापना और अपील का पंजीकरण।

हरियाणा ई – गवर्नेस पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया – Haryana E-Governance Portal Online Registration Process

अगर आप भी हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई इनसरकारी योजनाओ और सेवाओं का लाभ उठाना चाहते है तो इसके लिए आपको इस “ई –गवर्नेस पोर्टल” पर ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। इसके लिए आपको इसकी आधिकारिकवेबसाइट पर जाना होगा।

1. वेबसाइट पर जाने के लिए hrylabour.gov.in  यहाँ क्लिक करे।

2. स्क्रीन में दिख रहे होम पेज पर “ऑनलाइनपंजीकरण” वाले ऑप्शन पर क्लिक करे। 

3. पेज पर दी गई सभी सूचना को ध्यानपूर्वक पढ़े औरनीचे दिये गये चैक बाक्स पर क्लिक करें और सबमिट वाले बटन को दबायें।

4. स्क्रीन में खुले नए पेज पर अपना आधार कार्डसंख्या दर्ज करे। और जमा करे वाले ऑप्शन पर क्लिक करे। 

5. अब आदेशों का पालन करे और पंजीकरण प्रक्रिया कोपूरा करे।

 6. पंजीकरणप्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको यूजरनेम और पासवर्ड मिलेगा। जिसके जरिए आप इसपोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

7. लॉगिन होने के बाद आप जिस भी सेवा या योजना केलिए आवेदन करना चाहते है आपको उस पर क्लिक करना है। और आवेदन फार्म को भर कर जमाकरना है। 

अगर आप इस पोर्टल से सम्बंधित जानकारी लेनाचाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर या ईमेल के माध्यम से जानकारी ले सकते है। 

SARAL हेल्पलाइन: 1800-200-0023

वेबसाइट: https://saralharyana.gov.in

HBOCW बोर्ड के लिए टोल फ्री नंबर: 1800-180-2129

हम आपको सूचित करना चाहते है कि यह कोई अधिकारिक वेबसाइट नहीं है। हमारा हमेशा से यही प्रयत्न रहता है की हम आपको सरकार की विभिन्न प्रकार की योजनाओ से समबन्धित सही जानकारी प्रदान करे। आमतौर पर योजनाओ की जानकारी का स्रोत अखबार, न्यूज़ चैनल और सरकार द्वारा चलाई गई वेबसाइट होती है, जिन्हें अलग - अलग स्रोतों से एकत्रित किया जाता है। इसके अलावा हमारा किसी भी सरकारी संस्था या सरकार से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है। हमारा कार्य केवल सरकार की योजनाओ की सही जानकारी देना है हमारी वेबसाइट पर किसी भी व्यक्ति से किसी भी प्रकार का कोई डाटा नहीं लिया जाता हम आपसे अनुरोध करना चाहेंगे की आप हमारी वेबसाइट पर अपनी किसी भी प्रकार की पर्सनल जानकारी न डाले अगर आप ऐसा कुछ करते है तो इसके प्रति हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

About schemes-admin


मेरा नाम प्रदीप कुमार है में इस साइट में एडमिन के तौर पर काम करता हूँ मुझे हिंदी में लिखा अच्छा लगता है और में अपनी तरफ से कोसिस करता हुआ की जो पोस्ट में डालू उससे मरे यूजर को पूरी हेल्प मिले मुझे लिखना और साथ में चाय पीना अच्छा लगता है

DMCA.com Protection Status

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *