डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना -18000 रूपये की सहायता

Dr. Muthulakshmi Reddy Maternity Benefit Scheme – तमिलनाडु की राज्य सरकार डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना के तहत 5000 रूपये का लाभ गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इष्टतम पोषण प्रदान करने के लिए दिया जा रहा है।

Dr. Muthulakshmi Reddy Maternity Benefit Scheme

डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना

राज्य स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक राज्य सरकार ने डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना के अंतर्गत गर्भवती माताओं को 12,000 रूपए से 18,000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान कर है।

Dr. Muthulakshmi Reddy Maternity Benefit Scheme

पब्लिक हेल्थ डायरेक्टर डॉ के कोलंडिसामी ने कहा कि इस योजना के तहत संशोधित पोषण कार्यक्रमों के साथ 18,000 रूपये स्वीकृत करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए जा रहे हैं। 12,000 रुपये की वित्तीय सहायता 19 वर्ष या इससे अधिक आयु वाली गर्भवती महिलाओं के लिए तीन किस्तों (4000 रुपये) में सशर्त गई थी और केवल पहले दो प्रसव के लिए प्रतिबंधित किया गया था। हालांकि सशर्त जारी नई पोषण योजनाओं के साथ अद्यतन किया जा रहा है और अप्रैल में लागू होने की संभावना है।

Dr. Muthulakshmi Reddy Maternity Benefit Scheme

इस डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना के अंतर्गत,राज्य सरकार राज्य की सभी गर्भवती महिलाओं को लाभ प्रदान करेगी जो बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) की श्रेणी हैं और यह लाभ उन गर्भवती महिलाओं को प्रदान किया जा रहा है जो संबंधित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में गर्भावस्था के दौरान सभी आवश्यक प्रसवपूर्व सेवाओं के लिए इस योजना से लाभ ले सकती हैं।

Dr. Muthulakshmi Reddy Maternity Benefit Scheme

राज्य सरकार उन माताओं को नकद सहायता प्रदान करती है जिनका प्रसव सरकारी संस्थानों में होता है और सार्वभौमिक प्रतिरक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों के लिए टीकाकरण की तीसरी खुराक तक पूरी तरह से प्रतिरक्षण के लिए प्रदान की जाती है । इसके अलावा, इस योजना के संबंध में अन्य शर्तों का उन्नयन किया जा रहा है और शीघ्र ही इसे लागू किया जाएगा।

Download Tamil Nadu Amma Two Wheeler Scheme Application Form

तमिलनाडु सरकार ने गर्भवती महिलाओं के पंजीकरण ‘गर्भवती और शिशु सहयोग परीक्षण और मूल्यांकन (PICME)’ पोर्टल के साथ जनादेश जारी किया है। इस पोर्टल का लाभ लेने के लिए एक 12-अंकों का ‘प्रजनन और बाल स्वास्थ्य’ (RCH) आईडी नंबर और प्रविष्टियां तैयार करता है। प्रसव के दौरान ही उसके साथ PICME नंबर वाले माताओं के लिए यह किया जा सकता है।

 

अधिकारियों द्वारा प्रदान की गई जानकारी के अनुसार, कुल 25,698 गर्भवती महिलाओं को जिले में पिछले दो वर्षों में डॉ मुथुलक्ष्मी रेड्डी मातृत्व लाभ योजना के अंतर्गत `21.76 करोड़ की नकद सहायता प्राप्त हुई है।

Leave a Reply