भारत के वीर पोर्टल और ऐप | Bharat Ke Veer Portal & App

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने CRPF द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में ‘भारत के वीर’ नामक पोर्टल और मोबाइल एप लॉन्च किया। गृहमंत्री सिंह ने ‘शौर्य दिवस’ के मौके पर आयोजित इस कार्यक्रम में CRPF के जवानों को वीरता पुरस्कार भी दिए।Bharat Ke Veer एक नई Mobile App और bharatkeveer.gov.in केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया एक नया वेब पोर्टल है जिसके माध्यम से केंद्र सरकार सामान्य जनता के द्वारा देश की सीमाओं और आंतरिक सुरक्षा में तैनात केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल और अर्ध सैनिक बलों के जवानों के परिजनों को आर्थिक मदद प्रदान करेगी | देश का कोई भी नागरिक जो शहीदों के परिवारों का समर्थन करना चाहते हैं भारत के वीर’ वेब पोर्टल के माध्यम से 15 लाख  रुपए तक करके ऑनलाइन शहीदों के परिवारों की आर्थिक मदद कर सकते हैं |

दान की गई राशि उन केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल / केंद्रीय पैरा सैन्य बल के सैनिकों के परिजनों के खाते में जमा की जाएगी और ‘भारत के वीर ‘ डोमेन किसी अपनी पसंद के बहादुर व्यक्ति को आर्थिक रूप से समर्थन दे सकता है।

‘भारत के वीर’ पोर्टल के उपक्रम अर्धसैनिक बलों की निम्नलिखित सूची से परिवार को शामिल करती है।

  1. असम राइफल्स
  2. सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ)
  3. केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ)
  4. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ)
  5. भारत – तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी)
  6. राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ – भारत)
  7. राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी)
  8. सशस्त्र सीमा बाल (एसएसबी)

वेबसाइट खोलने पर, कोई व्यक्ति एक अलग सैनिक ‘बर्वहार्ट्स’ या ‘भारत के वीर’ को दान करने का विकल्प चुन सकता है।

भारत के वीर पोर्टल पर ऑनलाइन दान कैसे करें

  1. ऑनलाइन दान / योगदान करने के लिए, आपको पहले भारत के वीर पोर्टल पर जाने की जरूरत है https://bharatkeveer.gov.in/
  2. फिर आपको होमपेज से “एन्टर” बटन पर क्लिक करना होगा।
  3. ‘ब्रेवहर्ट्स’ लिंक पर क्लिक करने पर, एक पृष्ठ मारे गए सैनिकों की सूची प्रदर्शित करते हुए दिखाई देगा। कोई भी सूची से चयन कर सकता है या किसी विशेष सैनिक के लिए भी खोज सकता है खोज विकल्पों में सैनिक, देशी राज्य, बल, और शहीद के स्थान का नाम शामिल है।
  4. कोई भी ‘भारत के वीर’ खाते में दान करने के लिए आवश्यक विवरण दर्ज कर सकता है। दान करने वाले लोग भी अपने काम पर प्रकाश डालने वाले एक प्रमाण पत्र के हकदार होंगे।
  5. यदि आप “भरत के वीर कार्पस” को दान करना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए फॉर्म में दिखाए गए विवरण और राशि का केवल योगदान भरें।
  6. अंशदान के बाद कोई भी अपनी ई-मेल आईडी और फोन नंबर दर्ज करके अपना योगदान का प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकता है।
  7. भारत के वीर पोर्टल पर भारत के वीर.in के माध्यम से दान की गई राशि को उन केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल / केंद्रीय पैरा मिलिटरी फोर्स सैनिकों के ‘परिचालन के खाते में जमा किया जाएगा।

यह कॉर्पस एक समिति द्वारा प्रबंधित किया जाएगा जिसमें प्रख्यात व्यक्ति और वरिष्ठ सरकारी अधिकारी शामिल होंगे। यह समिति शहीदों के परिवारों को उनकी जरूरतों और आवश्यकताओं के हिसाब से धन को वितरित करने का निर्णय करेगी। इस पहल को शुरू करने का उपाय अक्षय कुमार के दिमाग में आया जिसके चलते तीन महीने पहले केंद्रीय गृह सचिव राजीव मेहरिशी से अक्षय कुमार ने मुलाकात की और इस विचार का सुझाव दिया। अक्षय कुमार जिनके पिता एक भारतीय सेना के अधिकारी थे, मृतक सैनिकों के परिवारों की मदद के लिए देश के सभी नागरिकों के लिए एक रास्ता तलाशना चाहते थे।

v

संदर्भ और संपर्क विवरण

  1. अधिक जानकारी के लिए पर जाएं https://bharatkeveer.gov.in/
  2. विजय कुमार, डीआईजी (आईटी), सीआरपीएफ लोग यहां संपर्क कर सकते हैं

टेलीफोन नंबर: 011-24361992

  1. मोबाइल नंबर: 9432056000
  2. ई-मेल आईडी: bharatkeveer@gov.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *