असम अटल अमृत अभियान (Atal Amrit Abhiyan) – स्वास्थ्य बीमा योजना

असम राज्य सरकार ने अटल अमृत अभियान के नाम से एक स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की है जो पांच महत्वपूर्ण बीमारियों में कवरेज प्रदान करेगी। इस योजना का नाम असम अटल अमृत अभियान (Atal Amrit Abhiyan) योजना है इस योजना के अंतर्गत असम में हर परिवार के सदस्य का बीमा किया जाएगा इस योजना के तहत प्रति वर्ष 2 लाख रुपये तक की राशि हर परिवार के सदस्य को बीमा कवरेज के रूप में प्रदान की जायेगी

इस योजना के तहत एक लाभार्थी 2 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त में करा सकता हैं। यह एक बीमा कवरेज योजना है जो की देश भर के अस्पतालों में  कैंसर, गुर्दे, जलने और दिल की सर्जरी और न्यूरॉन सर्जरी जैसी गंभीर बीमारियों में बीमा कवरेज प्रदान करती है है जिससे गरीब लोगो के लिए इलाज कराना और भी आसान हो जाता है

अटल अमृत अभियान उद्देश्य 

अटल अमृत अभियान असम में एक स्वास्थ्य बीमा योजना का उद्देश्य 2 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवरेज प्रदान करना है। इस योजना के अंतर्गत राज्य में प्रत्येक घर के निवासियों के लिए अटल अमृत अभियान स्वास्थ्य बीमा योजना कैंसर, गुर्दा रोग, मस्तिष्क दिल और चोटों जलने से संबंधित बीमारियों के रूप में पांच महत्वपूर्ण रोगों के लिए इलाज को कवर किया जाएगा। इन बीमारियों से पीड़ित लोगों को सभी सरकारी और सीजीएचएस पैनल में शामिल अस्पतालों में 2 लाख रुपये तक का इलाज प्राप्त करने में सहायता मिलेगी

काफी बार देखा जाता है कि गंभीर बिमारी के चलते आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण लाखों लोगो की मृत्यु हो जाती है लोगो की ज़िन्दगी को महत्व देते हुए असम सरकार ने इस योजना को जारी किया है अब वह लोग जिनके पास अपनी बीमारी का इलाज कराने के पैसे नहीं होते है वह अब इस योजना के जरिये मुफ्त में 2 लाख रुपए तक की मेडिकल सुविधाए प्राप्त कर सकते है और अपनी गंभीर बिमारियों का इलाज बिना किसी परेशानी के करा सकते है

अटल अमृत अभियान की बीमा कवर प्रक्रिया

बीमा की प्रक्रिया के तहत इस योजना में लोगों को बीमा कवर के लिए सरकार विशिष्ट पहचान संख्या के रूप में प्रत्येक लाभार्थी को एक स्वास्थ्य कार्ड प्रदान होता है। योजना में बीपीएल परिवारों के लिए मुफ्त स्मार्ट कार्ड 1 अप्रैल, 2017 से  वितरित होना शुरू हो चूका है

सिर्फ100 रुपये का भुगतान करके स्मार्ट कार्ड का लाभ उठाया जा सकता है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए घर के प्रत्येक व्यक्ति के लिए स्मार्ट कार्ड जारी किया जा रहा है। स्मार्ट कार्ड का वार्षिक नवीनीकरण लागत मूल्य100 रुपये रखा गया है

फोकस करने के लिए अंक –

इस योजना को राज्य में लागू करने के लिए राज्य सरकार ने 200 करोड़ रुपये अतिरिक्त का भार वहन किया है। सरकार इस योजना के तहत और अधिक अस्पतालों को सूचीबद्ध करने की कोशिश कर रही है ताकि निवासियों को बिना समस्या के उपचार मिल सके ।

राज्य सरकार केवल एक बार एक लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है अटल अमृत अभियान के तहत इन पांच रोगों से पीड़ित रोगियों के लिए एक लाख रूपये से शुरू की है। इस योजना को 1 अप्रैल से व्यक्तिगत आधार पर शुरू कर दिया गया था

मेरा नाम प्रदीप कुमार है में इस वेबसाइट में एडमिन के तौर पर काम करता हूँ और मुझे हिंदी में लिखना अच्छा लगता है और में अपनी तरफ से पूरी कोशिश करता हूँ की जो पोस्ट में डालू उससे मेरे यूजर को पूरी हेल्प मिले मुझे लिखना और साथ में चाय पीना अच्छा लगता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *