उत्तर प्रदेश चिकित्सा सुविधा योजना

चिकित्सा सुविधा योजना

उत्तर प्रदेश चिकित्सा सुविधा योजना – उत्तर प्रदेश सरकार नेश्रम विभाग के श्रमिकों के लिए चिकित्सा सुविधा योजना शुरू कर दी है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के श्रमिक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना को राज्य की महिला और पुरुष श्रमिकों के हिसाब से बनाया गया है। किसी भी विषम परिस्थिति में राज्य सरकार श्रमिकों के इलाज की लागत को वहन करेगी।

सरकारी योजनाओं के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें

उत्तर प्रदेश चिकित्सा सुविधा योजना का विवरण

इस योजना का लाभ 55 हजार से अधिक महिला और पुरुष श्रमिकों को होगा। सरकार का कहना है कि कुछ ऐसे कर्मचारी हैं जो धन की कमी के कारण छोटे-मोटे रोगों का इलाज करने में असमर्थ हैं। अधिकांश श्रमिक समाज के गरीब और कमजोर वर्गों से आते हैं। जब एक सामान्य बीमारी या कार्यस्थल की चोट होती है, तो उपचार के लिए धन समय पर उपलब्ध नहीं होता है।

उत्तर प्रदेश चिकित्सा सुविधा योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के श्रमिक ही ले सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिकों को एक साल पहले पंजीकरण कराने होंगे।
  • यदि आवेदक पति और पत्नी दोनों पंजीकृत हैं तो तीन हजार रूपये पत्नी के खाते में भेजे जाएँगे।
  • आवेदक पति और पत्नी दोनों का आधार कार्ड होना चाहिए।
  • यदि कोई अविवाहित कार्यकर्ता है, तो उसके खाते में दो हजार रूपए भेजे जाएंगे।
  • इस योजना के तहत,दवा व्यय के नाम पर 3000/ -रुपये प्रति वर्ष श्रमिकों को दिया जाएगा। ।
  • अभी तक, इस योजना के लिए राज्य में 55363 कर्मचारी पंजीकृत किये गए हैं।
  • आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए।

उत्तर प्रदेश चिकित्सा सुविधा योजना के लिए आवेदन कैसे करें

  • आवेदक को सबसे पहले उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी पोर्टल gov.in पर रजिस्टर करना होगा।
  • आवेदक इस योजना के लिए ऑफ़लाइन फॉर्म भर सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ पाने के लिए, श्रमिकों को कार्यालय में आवेदन करना होगा।

Leave a Reply