आवास परियोजनाओं के लिए केंद्रीय मंजूरी | Tamil Nadu Central nod for housing projects

आवास परियोजनाओं के लिए केंद्रीय मंजूरी

केन्द्रीय सरकार के केन्द्रीय मंजूरी और निगरानी समिति (सीएसएमसी) से आवास परियोजनाओं के लिए मंजूरी प्राप्त करने में तमिलनाडु पहली बार खड़ा था। राज्य आवास और शहरी विकास मंत्री उदमुलाई के राधाकृष्णन ने यह शुक्रवार को कहा था। उन्होंने कहा कि 8660.06 करोड़ रुपये की परियोजना लागत पर 2,46,268 आवास इकाइयों के निर्माण के लिए मंजूरी प्राप्त की गई थी।

राज्य 2017-18 में प्रधान मंत्री आवास योजना (पीएमए) – हाऊसिंग फॉर ऑल (शहरी) के तहत शहरी गरीबों के लिए तीन लाख घरों का निर्माण करेगा मंत्री ने तमिलनाडु  685 अपार्टमेंट मकानों के निर्माण का निरीक्षण करने के बाद संवाददाताओं से कहा त्रिची में पिचंकुलम में झोपड़ी क्लियरेंस बोर्ड (टीएनएससीबी) “केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा है कि तमिलनाडु में लोगों के लिए घर पहले ही बन गए हैं। उन्होंने 2023 में पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है ताकि तमिलनाडु को मलिन बस्तिहीन राज्य बनाया जा सके।” राधाकृष्णन ने कहा कि राज्य सरकार इस योजना के तहत लाभार्थियों को चार किश्तों में 2.10 लाख रुपये का प्रावधान करेगी।

पूर्व मंत्री जे जयललिता की सभी (शहरी) योजनाओं के लिए आवास के तहत 10 लाख घरों का निर्माण करने की घोषणा का हवाला देते हुए मंत्री ने कहा, 2017-18 में तीन लाख घरों के निर्माण की तारीख निर्धारित की गई है और एक लाख घरों का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

मंत्री ने यह भी कहा कि पिचंकुलम में अपार्टमेंट मकानों का निर्माण जल्द ही पूरा हो जाएगा। कार्यक्रम के अनुसार निर्माण 18 महीने में खत्म हो जाएगा जिसका अंतिम समय 23 जून 2017 है। भूतल के साथ तीन मंजिला अपार्टमेंट का निर्माण पांच डिजाईनों में किया जाएगा। प्रत्येक घर का निर्माण 396 वर्ग फुट क्षेत्र पर किया जाएगा। इस योजना से 391 पुराने लाभार्थियों और 280 नए लाभार्थियों को फायदा होगा।

Leave a Reply