प्रधानमंत्री आवास योजना – लाभार्थियों की किस्तों में बदलाव

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत केंद्र सरकार दवारा लाभार्थियों की किस्तों में बदलाव जा रहा था। वर्तमान समय में इस योजना में कुछ कमियां आने के कारण योजना की किस्तों में कुछ बदलाव किये गए हैं। सरकार नें  योजना की कमियों को दूर करने के लिए पहले से दी जा रही तीन किस्तों की धन राशियों में बदलाव कर दिया है।

इंदिरा आवास योजना जो की केंद्र सरकार की योजना थी दो साल पहले इस योजना का नाम बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना कर दिया गया था। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को घर बनाने के लिए 70 हजार रूपये दिए जा रहे थे।

लेकिन अब इस राशी को बढाकर 1 लाख 20 हजार रूपये कर दिया गया है। पिछले वित्तीय वर्ष लाभार्थियों को दी जाने वाली किस्तों की राशी 40-40 हजार रूपये थी। वित्तीय  वर्ष 2017-18 में आवास बनाने के लिए लाभार्थियों को दी जाने वाली तीनों किस्तों की राशी एक सामान नहीं होगी।

परियोजना के निदेशक D.R.D.A रामकृपाल चौधरी ने कहा की क़िस्त के पैसे में बदलाव कर दिया गया है। अब 40 हजार रूपये लाभार्थियों को पहली क़िस्त के रूप में दिए जाएँगे। इस पैसे से लाभार्थी को घर की नींव का कम पूरा करना होगा। नींव तक के निर्माण की फोटो साईट पर उपलोड करने के बाद लाभार्थी को 70 हजार रूपये दूसरी क़िस्त के रूप में प्राप्त होंगे।

इस पैसे से लाभार्थी को छत का कम पूरा करना होगा। लाभार्थी को 10 हजार रूपये की आखरी क़िस्त छत की फोटो अपलोड करने के बाद प्राप्त होगी। वित्तीय वर्ष 2017-18 में जिलों में 12145 घरों का निर्माण करने का लक्ष्य रखा गया है। अनुसूचित जाति के लोगों के लिए सबसे ज्यादा 7719 आवासों का आवंटन किया गया है।

जो परियोजना का लगभग 64 प्रतिशत है बाकि 32 प्रतिशत यानि 3925 आवास सामान्य व पिछड़े वर्ग के लोगों को आवंटित किये जाएँगे। इस योजना का केवल पांच प्रतिशत यानि केवल 664 आवास अल्पसंख्यकों के लिए अरक्षित हैं।

योजना के बदलाव

  • अलग-अलग धनराशि तीन किस्तों में मिलेगी।
  • अभी तक 40-40 हजार की एक समान तीन किस्तें मिलती थी।
  • अब पहली किस्त 40 हजार, दूसरी 70 और अंतिम 10 हजार की होगी।

Leave a Reply