प्रधानमंत्री सौर सुजला योजना ( हिंदी ) – (Pradhan Mantri Saur Sujla Yojana)

सौर सुजला योजना


सौर सुजला योजना (Pradhan Mantri Saur Sujla Yojana): छत्तीसगढ़ राज्य के किसानों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (भारत सरकार) द्वारा शुरू की गयी एक नई योजना है। सौर सुजला योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने किसानों को सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई के पंप प्रदान कर रही है। सौर सुजला योजना का मुख्य उद्देश्य रियायती दरों पर सौर सिंचाई पंप प्रदान करके किसानों को सशक्त बनाना है।

इस योजना के तहत कृषि और छत्तीसगढ़ में ग्रामीण विकास को मजबूत बनाने का उद्देश्य है। सरकार 3HP और 5HP क्षमता वाले और 3.5 लाख से 4.5 लाख रुपये मूल्य के सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंप किसानों को वितरित कर रही है। 31 मार्च 2019 तक किसानों को रियायती दरों पर पंप उपलब्ध कराया जाएगा। सौर सुजला योजना से  छत्तीसगढ़ में अगले दो साल में 51000 किसान लाभान्वित होंगे।

जिन क्षेत्रों में बिजली अभी तक नहीं पहुँची इस योजना को वहां  प्राथमिकता के आधार पर लागू किया जाएगा। सौर सुजला योजना के लाभार्थियों को सरकार ने दो प्रकार के सौर पंप वितरित करने का निर्णय लिया है। ये सौर पंप दो विभिन्न क्षमताओं और विन्यास के होंगे। पहला सौर पंप 3HP का है और यह छोटे पैमाने तौर के किसानों की सिंचाई गतिविधियों के लिए फायदेमंद होगा। दूसरे प्रकार का पम्प 5 HP का सौर पंप जो उच्च क्षमता का है और अधिक पानी पंप करने की क्षमता रखता है। यह बीच के और बड़े किसानों के लिए फायदेमंद होगा जिनके बड़े खेत होंगे। यह दोनों सौर पंप अत्यधिक कुशल हैं और CREDA (छत्तीसगढ़ अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी) पम्प को लगाने और इस सौर पंप के रखरखाव में तकनीकी सहायता प्रदान करता है ।

सौर सुजला योजना का लाभ:-


  1. छत्तीसगढ़ में किसानों के लिए सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंपों के लाभ
  2. 3HP का सौर पंप 5 लाख रुपये में
  3. 5HP के सौर पम्प 5 लाख रूपये में

सौर सुजला योजना की विशेषताएं :-


  1. सरकार 3HP और 5HP क्षमता के सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंपों को कुछ रियायती दरों पर दे रही है जो क्रमश: 5 लाख और4.5 लाख रूपये है।
  2. यह उम्मीद है कि 3HP सौर पंप की रियायती दर 7000 से 18000 तक होगी और 5HP सौर पम्प पर सब्सिडी लगभग 10,000 से 20000 रुपये के आसपास होने की उम्मीद है। किसानों के लिए अभी तक रियायत राशी की घोषणा नहीं की गई है।
  3. इस योजना में वितरण 31 मार्च से शुभारंभ के साथ 2019 तक किया जाएगा। इससे लगभग 51000 हजार किसानों को फायदा होगा।
  4. इस योजना में गाँव में रहने वाले किसानों को जिनके पास अभी तक बिजली नहीं पहुची है उन्हें सौर सिचाई पम्पों को उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। पम्प प्राथमिकता के आधार पर वितरित किये जाएँगे।
  5. इस योजना के तहत किसानों के पास दो प्रकार सौर पंप पाने का विकल्प है।
  6. छोटे पैमाने के किसानों के लिए 3HP का पम्प बेहतर है और 5HP का पम्प उन किसानों के लिए फायदेमंद है जो बड़े पैमाने पर खेती करते हैं। किसान सौर सिचाई पम्प का चयन अपने उपयोग के आधर पर कर सकते हैं ।
  7. छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (CREDA) पात्र किसानों के लिए अच्छी तरह से सौर पंप के उपकरणों को लगाने और रखरखाव के लिए जिम्मेदार होगा।

सौर सुजला योजना के लिए पात्रता मानदंड:-


  1. छोटे / मध्यम / बड़े किसान इस योजना के लिए पात्र हैं।
  2. किसान के पास छत्तीसगढ़ राज्य का अधिवास सौर सुजला योजना के लिए पात्र होना चाहिए।

सौर सुजला योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज:-


  1. पहचान का सबूत
  2. निवास प्रमाण पत्र
  3. आधार कार्ड
  4. बैंक खाता विवरण

सौर सुजला योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया:-


  1. आवेदन पत्र ब्लॉक कार्यालयों और तालुका / जिले में कृषि कार्यालयों में उपलब्ध है।
  2. फार्म सभी आवश्यक दस्तावेज के साथ ठीक से भर के केवल कृषि कार्यालय में प्रस्तुत जाना चाहिए।
  3. इस आवेदन के लिए मामूली शुल्क हैं।
  4. जब एक बार आप फार्म जमा करेंगे कृषि विभाग आवेदक द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के लिए उनके सत्यापन की प्रक्रिया शुरू कर देगा। अगर पात्र पाया गया तो सौर सिंचाई पंप रियायती दर पर किसानों को दिया जाएगा।

सन्दर्भ और विवरण:-


सौर सुजला योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए:- http://cgagridept.nic.in/index.htm

One comment

Leave a Reply