प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना रायगढ़ (हिंदी) – Pradhan Mantri Awas Yojana Raigarh

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना रायगढ़ को हरी झंडी दिखा दी है| इस योजना से रायगढ़ जिले के गरीब निवासियों को लाभ होगा| यह योजना कच्चे घरों में रह रहे लोगों की जरूरतों को देखते हुए लोगों के लिए डिज़ाइन किए नए घरों के निर्माण में मदद करेगी| जिले में रह रहे गरीबों के लिए सब के लिए आवास योजना के तहत इस योजना के तैयार किया गया है|

कैसे घरों का निर्माण किया जाएगा?

इन सभी घरों को बनाने की प्रक्रिया में कई चरण हैं :-

  • सरकार उन लोगों को सहायता प्रदान करेगी जिन्होंने आवेदन किया है या जो योग्य हैं| रायगढ़ के गरीब लोग csc केन्द्रों पर जाकर इसके लिए आवेदन कर सकते हैं| जिन लोगों को 2011 की जनगणना में सूचीबद्ध नहीं किया गया है वह फार्म भरकर जिला पंचायत के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं|
  • योजना के तहत लाभार्थी के खाते में 1 लाख 32 हजार रूपये भेजे जाएँगे| पैसे योजना के तहत घरों के निर्माण के लिए निर्धारित किया गया है।
  • घर के निर्माण के लिए पैसा तीन किस्तों में दिया जाएगा| योजना का पैसा योग्य लोगों के खाते में ट्रांसफर किया जाएगा| लाभार्थी घर  के निर्माण के लिए पैसे का इस्तेमाल किसी भी तरह कर से सकता है|

सरकार शौचालय बनाने के लिए भी पैसे दे रही है| योग्य लोगों को 12,000 सरकार की तरफ से शौचालय बनाने के लिए मिलेंगे| यह इसी के सामान योजना की पेशकश है| निर्माण में विशेष रूप से इसको योजना में जोड़ा गया है ताकि स्वच्छता को बढ़ावा देने में मदद की जा सके|

इसी तरह के अन्य कामों के लिए

क्या इस के समान विशेष अधिनियम भारत के अन्य भागों में इस्तेमाल किया गया है। 2015 में एक ऐसी ही योजना का छत्तीसगढ़ में 26,000 से अधिक घरों का निर्माण करने के लिए इस्तेमाल किया गया था। यह खासतौर पर उनके लिए था जो रायपुर जिले के अन्य क्षेत्रों में थे हालांकि रायगढ़ जिले ने भी समर्थन का एक छोटा सा टुकड़ा प्राप्त किया था। यह भी हाल ही में शुरू योजनाओं के सामान है जिसमें 6,500 घर बालाघाट में बनाने की योजना है।

क्या है घरों की कीमत

घरों की कीमत का अभी कोई खुलासा नहीं हुआ है| सब्सिडी के बाद भी सभी लोगों को लगभग 3 लाख रूपये खर्च करने पड़ेंगे| इन घरों को विशिष्ट परिवारों की जरूरतों के आधार पर क्षेत्रफल में बड़े घर बनाए जा रहे हैं|

One comment

  • umesh yadav

    jab jagah hi na mile to insan kaha banayega beja kabja bol ke ghar todne wali hi sarkar hai waise bhi kai hai jo majboori me beja kabja kiye hai sarkar unko ghar de rahi hai jinke pas pahale se hai

Leave a Reply