प्रधान मंत्री आवास योजना पास बुक

प्रधान मंत्री आवास योजना – प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत, सरकार घर के निर्माण योजना की निगरानी के उद्देश्य से हर घर खरीदार की एक पासबुक बनाती है। इस पासबुक में, सरकार द्वारा  निर्माण के लिए मिले अनुदान के बारे में पूरी जानकारी भी होगी।

पासबुक बनाने के पीछे का उद्देश्य यह है कि आवास योजनाओं के नाम की हेराफेरी को रोका जा सके।

इस योजना से सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि इस योजना का लाभ केवल सही व्यक्ति को ही दिया जा रहा है।

सरकारी योजनाओं के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें 

पासबुक में लाभार्थी की आईडी, आधार संख्या, मतदाता पहचान संख्या, परिवार का विवरण, बैंक आदि का विवरण पूरे नाम दके साथ दर्ज किया जाएगा।

इसके अलावा,इसमें निर्माण भूमि के बारे में पूरी जानकारी भी होगी जहां घर बनाया जाएगा। यह पासबुक आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही है।

केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा 1.5-1.5 लाख रुपये का अनुदान 3 लाख रुपये से कम में घर बनाने वाले लोगों को दिया जाएगा। हालांकि, लाभार्थी के पास अपनी जमीन होनी चाहिए और उसका एक स्थायी घर नहीं होना चाहिए।

अनुदान के तहत प्राप्त धन सीधे खाते में जाएगा और इसकी सूचना भी पासबुक में दर्ज की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत लोगों के पास उपलब्ध पासबुक अनुदानों का दुरुपयोग न करने के लिए शुरू की गई है।

समाचार स्रोत – http://hindi.oneindia.com/news/business/government-will-issue-passbook-every-beneficiary-pradhan-mantri-awas-yojna-422102.html

सरकारी योजनाओं के बारे में हिंदी में पढ़ें

2 comments

Leave a Reply