मध्यप्रदेश में मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना – नि:शुल्क लैपटॉप योजना

मध्यप्रदेश में मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना– हाल के दिनों में, मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने छात्रों के विकास के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। जरूरतमंद छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के अलावा, राज्य सरकार ने यह भी वादा किया है कि सभी योग्य उम्मीदवारों को लैपटॉप दिए जाएंगे। सरकार मेधावी छात्रा प्रोत्सहान योजना के कार्यान्वयन के बाद ऐसा कर रही है।

योजना की शुरुआत का विवरण

इस योजना की आधिकारिक घोषणा वर्ष 2009 की गयी थी। उस समय, राज्य भाजपा शासन के अधीन था और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान थे। 2009 से, राज्य सरकार ने छात्रों के विकास की दिशा में काम किया है और उन्हें उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए प्रोत्साहित किया है। अपनी अनूठी लैपटॉप योजना की गतिविधियों और निगरानी को मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग की सतर्क आंखों के तहत रखा गया था। इस वर्ष, चयनित उम्मीदवारों को जून 2017 में लैपटॉप दिए गए थे।

सरकारी योजनाओं के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें 

योजना की मुख्य विशेषताएं

  • लैपटॉप प्रदान करके प्रोत्साहन – इस योजना के अंतर्गत, राज्य सरकार सभी मेधावी उम्मीदवारों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान करेगी। इससे उच्च शिक्षा प्राप्त करने में छात्रों को प्रोत्साहन मिलेगा।
  • 12 वीं कक्षा में उत्तीर्ण हुए छात्र – इस योजना में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि सभी छात्रों ने 12 वीं की मानक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद अच्छे अंक प्राप्त किये हैं। चयन संबंधित सरकारी विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • छात्रों को वित्तीय सहायता – लैपटॉप खरीदने के लिए, राज्य सरकार प्रत्येक चयनित उम्मीदवारों को 25,000 रुपये की राशि प्रदान करेगी।
  • लाभार्थियों की संख्या – राज्य प्राधिकरण 2009 में इस योजना के कार्यान्वयन के बाद से चयनित उम्मीदवारों को मुफ्त लैपटॉप प्रदान कर रहा है। वर्ष 2017 में, 18,000 उम्मीदवारों को लैपटॉप दिया गया है।
  • योजना का बजट– इस योजना के कार्यान्वयन के दौरान, राज्य सरकार ने लैपटॉप प्रदान करने के लिए 46.4 करोड़ रुपये आवंटित किए।
  • बैंक उम्मीदवार के खाते में पैसा जमा करेगा – राज्य सरकार चयनित उम्मीदवारों के संबंधित बैंक खाते में धन जमा करेगी।

योजना के पात्रता मानदंड

  • राज्य के निवासी – राज्य सरकार केवल उन उम्मीदवारों को इस योजना के तहत पंजीकृत करने की अनुमति देगी जो राज्य के कानूनी निवासी हैं। यह अनिवार्य है कि उनके पास राज्य और राज्य सरकार से जारी किए गए मतदाता कार्ड हैं।
  • शिक्षा बोर्ड संबंधी मानदंड – लैपटॉप केवल उन्हीं उम्मीदवारों को दिए जाएंगे जो 12 वीं की मानक परीक्षा उत्तीर्ण करेंगे।
  • अंक संबंधित मानदंड – 12 वीं कक्षा के अंतिम परीक्षा में 85% अंक हासिल करने में सफल होने वाले केवल उन छात्रों को इस योजना के तहत पंजीकरण करने की अनुमति होगी। एससी या सीटी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 10% अंकों की छूट दी जाती है। वे पंजीकृत कर सकते हैं यदि उनके पास 75% अंक सुरक्षित हैं।
  • आय संबंधित मानदंड – कम आय वाले समूह के छात्रों को सहायता प्रदान करने के लिए योजना का विकास किया गया है। इस प्रकार, उम्मीदवार के परिवार की वार्षिक आय 6 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

योजना के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • निवास का सबूत – राज्य में रहने और अध्ययन करने वाले छात्रों को ही इस योजना के तहत पंजीकरण की अनुमति दी जाएगी। आवेदक को आवेदन पत्र के साथ आवासीय प्रमाण दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।
  • मार्क शीट और स्कूल प्रमाण पत्र – अंकों के कुछ प्रतिशत प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को पात्र माना जाएगा। दावों के समर्थन के लिए, आवेदक को स्कूल से जारी मार्क शीट और प्रमाण पत्र देना होगा।
  • आय प्रमाण पत्र – जैसे राज्य के उन उम्मीदवारों को जिनको लैपटॉप दिया जाएगा जो किसी निर्दिष्ट आय समूह में आते हैं,उन्हें आय प्रमाण पत्र देना जरूरी है।
  • आधार कार्ड – उम्मीदवार को आधार कार्ड भी प्रदान करना होगा। यह सरकार को लाभार्थियों को ट्रैक करने और योजना की प्रगति में सहायता करेगा।
  • बैंक खाते का ब्योरा – राशी को छात्र के बैंक खाते में स्थानांतरित किया जाएगा। इस प्रकार बैंक खाते का विवरण, जैसे की खाता संख्या, बैंक का नाम और शाखा, आईएफएससी कोड इत्यादि का उल्लेख स्पष्ट रूप से किया जाना चाहिए।
  • पासपोर्ट आकार की फोटो – उम्मीदवार आवेदन पत्र के साथ एक पासपोर्ट आकार की फोटो को संलग्न करना होगा।

पंजीकरण की प्रक्रिया

  • अगर किसी भी उम्मीदवार ने राज्य सरकार द्वारा निर्दिष्ट अंकों को सुरक्षित कर लिया है और अन्य पात्रता मानदंडों को पूरा किया है, तो उसे योजना की अधिकृत वेबसाइट पर क्लिक करना होगा। ये लिंक http://shiksha.samagra.gov.in/ उन्हें साइट तक पहुंचने में मदद करेगा।
  • एक बार उम्मीदवार होमपेज पर पहुंच गया तो उसे पेज के शीर्ष दाहिने हाथ पर लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक को “लैपटॉप” के रूप में चिह्नित किया गया है।
  • लिंक खोलने के बाद, उम्मीदवार को “योजना” के रूप में चिह्नित लिंक पर क्लिक करना होगा। इससे उन्हें योजना का ब्योरा दिया जाएगा।
  • इसके बाद, उम्मीदवार यह जांच कर सकता है कि क्या वह योजना के लिए पात्र है या नहीं। उम्मीदवार को http://shiksha.samagra.gov.in/Laptop/Public/EligibleStudentforLaptop.aspx पर क्लिक करना होगा और रोल नंबर दर्ज करना होगा।
  • उम्मीदवारों की जानकारी संबंधित सरकारी विभाग द्वारा प्राप्त की जाएगी। एक बार विवरण प्राप्त करने के बाद मानचित्रण के साथ और चयनित उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित की जाएगी। उन्हें तदनुसार अधिसूचित किया जाएगा।

छात्रों की पात्रता की जांच कैसे करें?

उम्मीदवार की पात्रता की जांच के लिए, आवेदक को लिंक http://shiksha.samagra.gov.in/ पर क्लिक करना होगा। तब उन्हें “लैपटॉप” लिंक पर क्लिक करने की आवश्यकता होगी यह उनको किसी दूसरे पेज तक पहुंच देगा, जिस पर क्लिक ” पात्रता जाने ” लिंक होगा। यह उस लिंक वहां तक पहुंचा देगा जहाँ “अपनी पात्रता जांचें” के रूप में चिह्नित किया गया है। जैसे ही उम्मीदवार लिंक पर क्लिक करेंगे, उसे वह रोल नंबर में टाइप करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

स्कीम की भुगतान स्थिति की जांच कैसे करें?

भुगतान की स्थिति की जांच के लिए, उम्मीदवारों को योजना के अधिकृत लिंक पर क्लिक करना होगा। यह “लैपटॉप” लिंक पर क्लिक करके और ” पात्रता जाने ” लिंक का पालन करने के बाद किया जाना चाहिए। फिर आवेदक “आपकी भुगतान स्थिति देखें” विकल्प प्राप्त होगा। लिंक पर क्लिक करके, उम्मीदवारों को दूसरे पृष्ठ पर पहुंचना होगा जहां उन्हें 12 वीं का मानक रोल नंबर में टाइप करना होगा।

शिकायत कैसे पंजीकृत करें?

शिकायत दर्ज करने के लिए, उम्मीदवार को उसी प्रक्रिया का पालन करना होगा जो पिछले अनुभाग में प्रकाशित किया गया है। “पात्रता जाने” पर क्लिक करने के बाद विकल्प पृष्ठ खोलने पर, उम्मीदवार को लिंक मार्केट पर “शिकायत दर्ज करें” के रूप में क्लिक करना होगा जैसे ही लिंक पर क्लिक किया जाता है, उम्मीदवार को दूसरे पृष्ठ पर भेज दिया जाएगा। यहां, आवेदक को 12 वीं कक्षा का रोल नंबर में टाइप करना होगा। फिर ड्रॉप डाउन ऐरो से प्रकार के मुद्दों को चुना जाना चाहिए। आवेदक को मोबाइल नंबर और विवरण टाइप करना होगा। इस मुद्दे को दर्ज करने के लिए, उसे कैप्चा कोड टाइप करना होगा और “पंजीकरण शिकायत” लिंक पर क्लिक करना होगा।

योजना के बारे में हेल्पलाइन विवरण

सभी इच्छुक उम्मीदवार जो योजना का लाभ प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं, छात्र कल्याण कार्यक्रम की आधिकारिक वेबसाइट से विवरण प्राप्त कर सकते हैं। इस साइट पर shikshaportal@mp.gov.in लिंक पर क्लिक करके पहुंचा जा सकता है। राज्य सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर भी शुरू किया है। 0755-2600115 इस टोल फ्री नंबर पर कॉल करके, उम्मीदवार इस योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

राज्य सरकार छात्रों को सहायता प्रदान कर रही है, योजना का उद्देश्य अधिक से अधिक उम्मीदवारों को स्कूल की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करने के लिए प्रोत्साहन करना है। जितना अधिक छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए चुनते हैं, राज्य की समग्र साक्षरता दर में वृद्धि होगी। इसका क्षेत्र के आर्थिक स्वास्थ्य पर सीधा असर होगा।

सरकारी योजनाओं के बारे में हिंदी में पढ़ें

 

Leave a Reply