यूपी बजट 2017-18 में युवाओं के लिए लाभ और योजना की सूची

यूपी बजट 2017-18 योगी आदित्यनाथ सरकार के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 3.84 लाख करोड़ रूपए का राज्य का बजट प्रस्तुत किए। इस बजट में राज्य के लिए 55,781 करोड़ की योजनाएं हैं। वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि हमारा मुख्य लक्ष्य गरीबी समाप्त करना है। हमारा बजट गरीबों, बेरोजगारों और किसानों के लिए है। हमारी पहली प्राथमिकता राज्य में गरीबी खत्म करना है।

यूपी बजट 2017 में युवाओं को लाभ –
  • 10 वीं कक्षा से ऊपर के छात्रों की शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए और छात्रवृत्ति के लिए 1,061 करोड़ का बजट।
  • 10 वीं कक्षा तक पिछडे वर्ग के छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए 142 करोड़ का बजट।
  • सरकार लड़कियों को स्नातक तक मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी। अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना के लिए 21 करोड़ का बजट
  • स्कूल में छात्रों को जूते, मोजे और स्वेटर के वितरण के लिए 300 करोड़ रुपये का बजट और स्कूल में छात्रों के लिए वर्दी और पुस्तकें बांटने के लिए 1243 करोड़ रूपये का बजट।
  • सिंगल विंडो क्लीयरेंस के लिए 10 करोड़ रुपये। स्कूल में छात्रों को बैग के वितरण के लिए 100 करोड़ रुपये का बजट।
  • औद्योगिक निवेश और रोजगार नीति के कार्यान्वयन के लिए 20 करोड़ का बजट।
  • बजट में कौशल विकास को भी शामिल किया गया। 24 जनवरी को यूपी दिवस मनाने की योजना मुद्रा निवेश योजना की नीति लागू की जा रही है।
  • अल्पसंख्यक छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए 791 करोड़ 83 लाख का बजट।
  • अल्पसंख्यक छात्र छात्रवृत्ति और शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए 942 करोड़ का बजट।
  • सरकार ने 50 करोड़ का बजट निजी डिग्री कॉलेज में वाईफाई के लिए।
  • लखनऊ में भाऊ राव देवराश पीठ की स्थापना के लिए 2 करोड़ की व्यवस्था।
  • पंडित दीन दयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय में शोध पीठ की स्थापना के लिए 9 करोड़ की व्यवस्था।
  • महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों की ऑनलाइन मान्यता प्रणाली के लिए 50 लाख रूपए का प्रावधान।

अर्थशास्त्री प्रो एपी तिवारी के अनुसार, सरकार ने उत्तर प्रदेश बजट 2017-18 में शिक्षा के बारे में अधिक ध्यान दिया है। विशेष रूप से राज्य में छात्राओं को मुफ्त शिक्षा प्रदान करने के लिए यह एक संतुष्ट बजट है। हालांकि किसान इस बजट से अधिक की उम्मीद कर रहे हैं लेकिन सरकार ने सभी का ख्याल रखा है।

Leave a Reply