गौरव नारी निति योजना गुजरात – पूर्ण विवरण

गौरव नारी नीती योजना गुजरात– महिला और बाल विकास मंत्रालय ने ‘गुजरात में गौरव नारी निति योजना’ के नाम से एक नई योजना शुरू की है। इस योजना के तहत, राज्य सरकार लैंगिक समानता पर ध्यान केंद्रित कर रही है ताकि पुरुषों और महिलाओं के साथ सामाजिक, आर्थिक और समाज के अन्य सभी पहलुओं में समान रूप से व्यवहार किया जाना चाहिए ना की लिंग के आधार पर भेदभाव न किया जाए।

गुजरात की गौरव नारी निति योजना का विवरण

गुजरात में गौरव नारी निति योजना के तहत, यह सुनिश्चित किया जाएगा कि महिलाओं के साथ समान रूप से व्यवहार किया जाए और महिलाओं को हर सेवा, सुविधा आदि प्रदान की जाए। राज्य सरकार के सहयोग से आर्थिक पर्यावरण, स्वास्थ्य और जीवन की गुणवत्ता, अहिंसा, शिक्षा, वकालत और अन्य क्षमता आदि का निर्माण हो।

योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य गुजरात की महिलाओं को सशक्त बनाना है। यह योजना महिलाओं को अनुबंध कृषि, कृषि सेवाओं, प्रसंस्करण, डेयरी और पोल्ट्री और कृषि उत्पाद आदि के लिए प्रोत्साहित करती है। ताकि वे विपणन जैसी गतिविधियों भाग लें और इस योजना में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि गुजरात की  सभी महिलाऐं इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त कर सकें। इस योजना की अधिक जानकारी नजदीकी के महिला और बाल विकास विभाग से प्राप्त की जा सकती है।

गुजरात की गौरव नारी निति योजना के बारे में अंग्रेजी में पढ़ें

योजना के लाभ

  • महिलाओं को बेहतर आर्थिक वातावरण प्रदान करना।
  • गैर सरकारी संगठनों, सहकारी समितियों और निजी निकायों की मदद से विशेष प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के माध्यम से कारीगर और गरीब महिलाओं और अकुशल गैर- युवा महिलाओं के तकनीकी उद्यम और प्रबंधकीय कौशल को मजबूत और उन्नयन करना।
  • रोज़गार की जानकारी के साथ महिलाओं के लिए संस्थानों को बढ़ावा देने की योजना।
  • सभी जिलों और प्रमुख शहरों में काम कर रही महिलाओं के लिए हॉस्टल बनाने की योजना।
  • महिला सहकारी समितियों को समर्थन देने के लिए एक योजना एसएचजी निधि स्थापित करना और उन्हें आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने में सक्षम बनाना।
  • कृषि, वन और गैर-कृषि आय सृजन संबंधी गतिविधियों के लिए महिला एसएचजी को ऋण प्रदान करने के लिए सहकारी और राष्ट्रीयकृत बैंकों को प्रोत्साहित करने की योजना।
  • महिलाओं के प्रति हिंसा की घटनाओं को कम करने के लिए मौजूदा सामाजिक कार्यकर्ताओं के एक बड़े समूह को प्रशिक्षित करना और हिंसा के ऐसी शिकार महिलाओं को व्यवस्थित रूप से संरक्षण प्रदान करने की योजना।

पात्रता मापदंड

  • केवल गुजरात की महिला निवासी इस योजना की पात्र हैं।
  • ग्रामीण या शहरी इलाकों में रह रही अशिक्षित, गरीब, अकुशल महिलाऐं इस योजना का लाभ पाने के योग्य हैं।

गुजरात सरकार की अन्य योजनाओं के बारे में

आवश्यक दस्तावेज़

  • निवास प्रमाणपत्र, विद्युत बिल आदि।
  • आधार कार्ड, मतदाता पहचान आदि।
  • बीपीएल कार्ड (यदि उपलब्ध हो)
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

नोट: दस्तावेज की आवश्यकता है या नहीं, लेकिन आवेदक को दस्तावेज़ अपने पास रखने हैं।

आवेदन कैसे करे

इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक को महिला और बाल विकास के निकटतम विभाग से संपर्क करना है। किसी विशिष्ट आवेदन प्रक्रिया का उल्लेख नहीं किया गया है। योजना के कार्यान्वयन के लिए महिला और बाल विकास विभाग नोडल एजेंसी है।

संपर्क जानकारी

आवेदक अधिक जानकारी के लिए महिला और बाल विकास के निकटतम विभाग से संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply